Karauli: करौली में 3 दिन से बारिश बनी आफत, लोगों के घरों में भरा पानी
topStories1rajasthan1387189

Karauli: करौली में 3 दिन से बारिश बनी आफत, लोगों के घरों में भरा पानी

करौली जिला मुख्यालय पर तीन दिन हो रही बारिश से कॉलोनी के कई घरों में पानी भरने से लोगों को लाखों का नुकसान हुआ है. करौली में बीते रोज 64 एमएम बारिश दर्ज की गई.

Karauli: करौली में 3 दिन से बारिश बनी आफत, लोगों के घरों में भरा पानी

Karauli: करौली जिला मुख्यालय पर तीन दिन हो रही बारिश ने आमजन को लाखों का नुकसान पहुंचाया. वहीं हाइवे पर जगह-जगह सड़क धंसने से भी नुकसान हुआ है. करौली में शुक्रवार दोपहर से शुरू हुई बारिश का दौर रविवार को भी जारी रहा. बीते दो दिनों मे कभी तेज तो कभी मंद गति से बारिश का दौर चलता रहा. करौली में बीते रोज 64 एमएम बारिश दर्ज की गई. रुक रुक कर हो रही बारिश के चलते विवेक विहार कॉलोनी के कई घरों में पानी भरने से लोगों को लाखों का नुकसान हुआ है. इस दौरान विवेक विहार कॉलोनी निवासी इन्दिरा गुप्ता के घर के तलघर में पानी भर गया, जिसके चलते पूरा घरेलू सामान पानी में भीग गया.

यह भी पढ़ें - राजस्थान में भारी बारिश की चेतावनी के साथ इन जिलों में अलर्ट जारी, दो दर्जन गांवों के रास्ते बंद

घर में पानी भरने से टीवी, फ्रीज, कूलर, पंखे आदि खराब हो गए, वहीं कपड़े आदि भी भीग गए. पानी इतना भर गया कि तलघर में सामान तैरने लगा. इन्दिरा के अनुसार पानी भरने से करीब डेढ़ से दो लाख रुपए का नुकसान हुआ है. इसी घर से सटे कैलाशचन्द शर्मा के घर का तलघर मे भी पानी भर गया हालांकि तलघर में अधिक सामान नहीं था, इससे ज्यादा नुकसान नहीं हुआ. इसी कॉलोनी के निवासी सेवानिवृत्त पुलिसकर्मी ब्रह्मानन्द के तलघर में भी रखा फर्नीचर बारिश के पानी से खराब हो गया है. वहीं कपड़े सहित अन्य घरेलू सामान भी पानी में तैरते नजर आए. कॉलोनी वासियों के अनुसार पिछले वर्षों में पानी भरने की यह समस्या तीसरी-चौथी बार सामने आई है.

कॉलोनी के बाशिंदों का आरोप है कि क्षेत्र में पहले एक नाला था, जिसमें पानी की निकासी होती थी, लेकिन कुछ लोगों ने जमीन के साथ नाले को बेच डाला और उसे समतल कर दिया है, जिससे पानी की निकासी नहीं हो पा रही, ऐसे में बारिश में पानी भरने की समस्या खड़ी होती है. जिला मुख्यालय पर तेज बारिश के चलते कई जगह हाइवे की सड़क धंस गई, जिससे लाखों का नुकसान हुआ है. 

बता दें कि बीते दिन सायनात खिड़किया-132 केवी जीएसएस कॉलोनी हाथीघटा क्षेत्र को सीधे तौर पर जोडऩे वाले रास्ते के बीच पुलिया को एक बार फिर तोड़कर पानी की निकासी करनी पड़ी. जिससे वीर हनुमानजी क्षेत्र में पानी भर गया. 3 से 4 फीट तक पानी भरने से क्षेत्र के घरों में पानी भरने लगा, इस पर जेसीबी से पुलिया को तोड़कर पाइपों को हटाया गया, तब जाकर पानी की निकासी हो सकी. लोगों ने आरोप लगाया कि पुलिया को ठीक कराने के लिए कई बार जिला प्रशासन और नगरपरिषद प्रशासन से आग्रह किया, लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा. 

Reporter - Ashish Chaturvedi

खबरें और भी हैं...

कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक भंवर लाल शर्मा का निधन, सीएम गहलोत ने जताई संवेदना

Viral Video: राजेंद्र गुढ़ा ने कहा, सचिन पायलट के साथ चट्टान की तरह साथ रहूंगा

अडानी के साथ 60 हजार करोड़ बिजनेस डील पर राहुल गांधी ने कहा-मेरी पॉजिशन मोनोपोली के खिलाफ

Trending news