close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जानिए राजस्थान की वैसी सीटें जहां जीत-हार का अंतर रहा 1000 वोटों से भी कम

भीलवाड़ा जिले में असिंद सीट से भाजपा प्रत्याशी जब्बर सिंह सांखला ने मात्र 154 वोटों के मामूली अंतर से कांग्रेस के मनीष मेवाड़ा को हराया.

जानिए राजस्थान की वैसी सीटें जहां जीत-हार का अंतर रहा 1000 वोटों से भी कम
राजस्थान विधानसभा चुनाव में कई उम्मीदवारों ने मामूली अंतर से जीत हासिल की है (फाइल फोटो)

जयपुर: राजस्थान की चुनावी जंग में कम से कम 10 सीटों पर कांटे की टक्कर देखने को मिली. इन सीटों पर जीत का अंतर हजार मतों से भी कम का रहा. इन 10 सीटों में सबसे कम जीत का अंतर 154 वोटों का रहा. इस बार राज्य में कांग्रेस नीत गठबंधन को मामूली बहुमत हासिल हुआ है. 

निर्वाचन आयोग के मुताबिक, भीलवाड़ा जिले में असिंद सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रत्याशी जब्बर सिंह सांखला ने महज 154 वोटों के मामूली अंतर से अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के मनीष मेवाड़ा से सीट छीन ली. जहां सांखला को 70,249 वोट मिले, जबकि मेवाड़ा को 70,095 वोट हासिल हुए.

मारवाड़ निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार खुशवीर सिंह ने भाजपा के केसराम चौधरी को 251 मतों के अंतर से हराया. सिंह को 58,921 वोट मिले, तो चौधरी को 58,670 मतों से संतोष करना पड़ा.

पीलीबंगा (एससी) सीट से भाजपा के धर्मेद्र कुमार भी किस्मत वाले रहे और उन्होंने कांग्रेस के विनोद कुमार को 278 वोटों से शिकस्त दी. धर्मेद्र कुमार को 1,06,414 वोट मिले, जबकि कांग्रेस प्रत्याशी को 1,06,136 वोट मिले. यहां और भी छह अन्य नेता हैं, जिनकी जीत का अंतर हजार वोटों से भी कम रहा है.

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस बहुमत के मुहाने पर पहुंच गई लेकिन 101 का जादुई आंकड़ा नहीं छू पाई.  हालांकि इस बार बड़ी संख्या में कांग्रेस के बागी जीते हैं, लिहाजा कांग्रेस को सरकार बनाने में परेशानी नहीं होनी चाहिए. राज्य में कांग्रेस की सरकार बनता देख पार्टी के जीतने वाले कुछ बागियों ने अपनी घर वापसी के संकेत भी दे दिए हैं.

गौरतलब है कि, राजस्‍थान विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस ने 99 सीटों पर जीत हासिल की है. जबकि बीजेपी को 73 सीटों पर संतोष करना पड़ा है. इस बार के चुनाव में कमल के फुल खिलाने का बीजेपी का दावा राज्य में कामयाब नहीं हो पाया.

वहीं अगर अन्‍य दलों की बात करें तो बहुजन समाज पार्टी (बसपा) को 6 सीटें मिली हैं. कम्‍युनिस्‍ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्‍सवादी) को 2 सीटें मिली हैं. वहीं भारतीय ट्राइबल पार्टी को 2, राष्‍ट्रीय लोक दल को 1 और राष्‍ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी को 3 सीटें मिली हैं. इसके अलावा इन चुनावों में 13 निर्दलीय प्रत्‍याशियों ने जीत दर्ज की है.

 (इनपुट आईएएनएस से)