कोटा : छात्रसंघ चुनावों के बाद जमकर हंगामा, प्रशासन पर लगाया गड़बड़ी का आरोप

पुलिस ने जैसे तैसे विजेता प्रत्याशी हनी शर्मा की कार को कॉलेज के अंदर प्रवेश करवाया. हिना राठौर की समर्थक छात्राओं ने हनी शर्मा की गाड़ी का पीछा किया. 

कोटा : छात्रसंघ चुनावों के बाद जमकर हंगामा, प्रशासन पर लगाया गड़बड़ी का आरोप

कोटा/ हिमांशु मित्तल: छात्र संघ चुनावो के परिणाम घोषित होने के बाद कोटा के कॉलेज में भूचाल आया हुआ है. पराजित निर्दलीय प्रत्याशी चुनावो में गड़बड़ी का आरोप लगा रहे हैं. इतना ही नहीं जेडीबी आर्ट से एबीवीपी की पराजित प्रत्याशी हिना राठौर ने तो अपनी पार्टी के सांसद के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. जेडीबी कॉलेज में इक्कसवीं सदी की नारी ने जमकर हंगामा किया और पुलिस के भी पसीने छुड़ा दिए है. इतना ही नहीं हारे हुए प्रत्याशियों के साथ लड़कियों ने कॉलेज गेट के बाहर धरना दे दिया, साथ ही विजेता प्रत्याशी को अंदर प्रवेश नहीं करने दिया. इस बात को लेकर लड़कियों के दो गुट में मारपीट तक हो गई. 

पुलिस ने जैसे तैसे विजेता प्रत्याशी हनी शर्मा की कार को कॉलेज के अंदर प्रवेश करवाया. हिना राठौर की समर्थक छात्राओं ने हनी शर्मा की गाड़ी का पीछा किया. हिना राठौर की समर्थक छात्राएं आगे आगे और पुलिस उनके पीछे पीछे दौड़ती रही और हनी शर्मा को कार से उतरने से रोक ने लगी. मजबूरन पुलिस को हिना राठौड़ को पकड़ना पड़ा. करीब 1 घंटे तक कॉलेज में हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा. प्रदर्शनकारी छात्राएं आगे आगे और पुलिस पीछे पीछे भागती रही. 

इस घटना के बाद छात्र नेताओं का गुस्सा फूट पड़ा. राजकीय कला महाविद्यालय के हारे हुए चारों प्रत्याशी और जेडीबी साइंस कॉलेज से हारी हुई दो प्रत्याशी कलेक्ट्रेट के बाहर धरने पर बैठ गईं. सभी प्रत्याशियों ने कोटा, बूंदी सांसद पर चुनावो में गड़बड़ी करवाने का आरोप जड़ते हुए चुनाव निरस्त करवाने को मांग की. प्रत्याशियों का कहना है कि लंबे वक्त से छात्र हितो के लिए संघर्ष करते रहने के कारण चुनाव लड़ा है. लेकिन प्रशासन से मिली भगतकर चुनाव में गड़बड़ी की गई. प्रत्याशियों ने चुनाव निरस्त नही करने पर गौरव यात्रा के विरोध की बात कही. 

छात्र संघ चुनाव परिणाम के बाद छात्र राजनीति में घमासान मचा है. पराजित प्रत्याशी आक्रोशित है. आने वाले समय मे कोटा में धरने प्रदर्शन के दौर जारी रह सकता है. कुछ दिन बाद सरकार कोटा में आने वाली है. उसके बाद बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का भी प्रस्तावित दौरा है. ऐसे में देखना होगा कि प्रशासन किस तरह से आक्रोशित छात्रों को संतुष्ट कर पाता है.