कोटा को मिली प्लाज्मा बैंक की सौगात, चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने किया उद्घाटन

प्लाज्मा डोनेशन के लिए संक्रमण मुक्त हो चुके नागरिकों को प्रेरित करें, जिससे प्लाज्मा की कमी नहीं रहे.

कोटा को मिली प्लाज्मा बैंक की सौगात, चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने किया उद्घाटन
चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा.

कोटा: कोरोना संक्रमण के इलाज में कोटा ने एक बड़ा क़दम बढ़ाया है. चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा (Raghu Sharma) यहां ने प्लाज्मा थैरेपी बैंक का उद्घाटन किया है. चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि कोरोना में प्लाज्मा थैरेपी कारगर है. प्लाज्मा डोनेशन के लिए संक्रमण मुक्त हो चुके नागरिकों को प्रेरित करें, जिससे प्लाज्मा की कमी नहीं रहे.

चिकित्सा मंत्री ने वीसी के माध्यम कोटा में प्लाज्मा बैंक का उद्घाटन करते हुए कहा कि चिकित्सकों के प्रयास से प्रदेश में कोरोना से मृत्यु दर निरन्तर घट रही है. इलाज के लिए सुविधाओं में विस्तार हो रहा है. प्रदेश में 5 मेडिकल कॉलेजों में प्लाज्मा थैरेपी से इलाज शुरू किया जा चुका है. आने वाले समय में लोग स्वप्रेरणा से प्लाज्मा देने आगे आ सकें, इसके लिए भ्रांतियां दूर कर प्लाज्मा डोनेशन के लिए प्रेरित करना होगा. कोरोना की रोकथाम के लिए जिला स्तर पर किये जा रहे प्रयासों की समीक्षा की.

रिकवरी दर बढ़ानी है, मृत्यु दर घटानी है
चिकित्सा मंत्री ने कहा कि कोरोना मरीजों की रिकवरी दर को बढ़ाना तथा मृत्यु दर को घटाना हमारी प्राथमिकता में है. इसके लिए चिकित्सा सेवाओं में संसाधनों की कमी नही आने दी जाएगी. कोटा जिले में कोरोना रोगियों को स्वास्थ्य करने में अच्छा कार्य किया गया है, इसे बरकरार रखना होगा. कोरोना संक्रमण मुक्त हो चके नागरिकों को प्लाज्मा डोनेशन के लिए प्रेरित करने के निर्देश दिए.

अन्य जिलों को भी भेज सकेंगे प्लाज्मा
डॉ. विजय सरदाना ने जानकारी देते हुए कहा कि कोटा जिला रक्तदान में सदा अग्रणी रहता है. प्लाज्मा डोनेशन में भी अग्रणी रहेगा. अब तक 11 लोगों द्वारा प्लाज्मा डोनेट किया जा चुका है. अन्य जिलों को भी हम प्लाज्मा दे सकेंगे.