कोटा: घूसखोर पन्नालाल के पास मिली पैसों की पोटली, घर में लगा रखी थी नोट गिनने की मशीन

कोटा एसीबी की टीम ने खान विभाग के जिस घूसखोर इंजीनियर को गिरफ्तार किया है वो काली कमाई का कुबेर निकाला.   

कोटा: घूसखोर पन्नालाल के पास मिली पैसों की पोटली, घर में लगा रखी थी नोट गिनने की मशीन
SME पन्नालाल

केके शर्मा, कोटा: एसीबी की टीम ने खान विभाग के जिस घूसखोर इंजीनियर को गिरफ्तार किया है वो काली कमाई का कुबेर निकाला. जांच में कई चौंकाने वाले खुलासे भी सामने आ रहे हैं. रिश्वतखोरी के पैसों से SME पन्नालाल ने जमकर अपनी तिजोरियां भरी हैं. 

भ्रष्टाचार को लेकर हमेशा ही सुर्खियों में रहने वाला खान विभाग एक बार फिर चर्चाओं में है. एसीबी की टीम ने ऐसे ही खान विभाग के भ्रष्टाचारी इंजीनियर पन्नालाल को रंगे हाथों 1 लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है. पन्नालाल ने ये रिश्वत रॉयल्टी ठेकेदार से सिक्योरिटी राशि रिलीज करने के एवज में मांगी थी. रॉयल्टी के ठेकेदार राजेन्द्र शर्मा और मनोज जैन की शिकायत पर बूंदी एसीबी की टीम ने जाल बिछाया और रिश्वत लेते रंगे हाथों SME पन्नालाल को धर दबोचा.

पन्नालाल मीणा के घर की तलाशी के दौरान बेहद ही चौंकाने वाली तस्वीरें सामने आई हैं. एसीबी ने जहां भी हाथ डाला वहां से नोटों की बारिश होने लगी. क्या पलंग, क्या अलमारी, लॉकर और यहां तक कि कपड़ों तक में नोटों की गड्डियां छुपाकर रखी गई थी. इतना ही नहीं अपनी काली कमाई को गिनने के लिए पन्नालाल ने घर पर ही नोट गिनने की मशीन लगा रखी थी. नोटों के बंडल देखकर खुद एसीबी के अधिकारी दंग रह गए. काली कमाई से जुटाई गई रकम को गिनने के लिए मशीनों का सहारा लेना पड़ा.

घूसखोर SME पन्नालाल के पास अकूत संपतियां मिल रही हैं. डेयरी फार्म, मार्बल उद्योग, पेट्रोल पंप, गैस एजेंसी सहित कई खानों में पार्टनरशिप के दस्तावेज भी बरामद हुए हैं. इस भ्रष्ट अधिकारी के घर से अलमारी, गद्दों और पलंग में नोटों के बंडल निकले हैं. वहीं बैंक खातों और लॉकर की तलाशी में एसीबी की टीम जुटी हुई है. एसीबी की सर्च में बड़े स्तर पर अवैध निवेश के दस्तावेज भी सामने आ रहे हैं.