close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोटा: मंगलवार को होने वाला छात्र संघ चुनाव स्थगित, विश्वविद्यालय ने बताई ये वजह

कोटा विश्वविद्यालय में कल होने वाला छात्र संघ चुनाव स्थगित कर दिया गया है. विश्वविद्यालय कैम्पस में चली उच्चस्तरीय बैठक के बाद देर शाम को यह निर्णय लिया गया.

कोटा: मंगलवार को होने वाला छात्र संघ चुनाव स्थगित, विश्वविद्यालय ने बताई ये वजह
.(फाइल फोटो)

कोटा, मुकेश सोनी: कोटा विश्वविद्यालय में कल होने वाला छात्र संघ चुनाव स्थगित कर दिया गया है. विश्वविद्यालय कैम्पस में चली उच्चस्तरीय बैठक के बाद देर शाम को यह निर्णय लिया गया. हालांकि विवि प्रशासन ने राज्य सरकार को पत्र लिखकर मार्गदर्शन मांगा है. हंगामे की सूचना को लेकर विवि के बाहर पुलिस दस्ता तैनात रहा. चुनाव स्थगित करने की सूचना जारी होने के बाद यूनिर्वसिटी केम्पस के बाहर छात्रों का जमावड़ा लग गया. चुनाव लड़ रहे छात्रों के गुट नारेबाजी करने लगे. हालात को देखते हुए सुरक्षा के लिहाज से मौके पर तीन थानों के पुलिस दस्ता तैनात किया गया. प्रशिक्षु आईपीएस अमृता दुहन ने मोर्चा संभाला है.

जानिए क्या है मामला 
एबीवीपी संगठन की ओर से कोटा विवि के मुख्य चुनाव अधिकारी के समक्ष आपत्ति दर्ज कराई थी कि एमए लोक प्रशासन विषय के प्रथम वर्ष के विद्यार्थी विक्रम नागर ने 2016-17 में एमएसडब्ल्यू सेमस्टर तृतीय में कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर मोनाल्ड विवि के फर्जी दस्तावेजों के आधार पर प्रवेश लिया था.

जिसकी जांच विवि स्तर पर की गई. छात्र नागर के कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर प्रवेश प्रकरण पर गत वर्ष भी आपत्ति की गई थी. उसके बावजूद छात्रसंघ चुनाव 2018-19 के लिए गठित चुनाव समिति के समक्ष प्रकरण रखा गया था. उक्त छात्र ने पुन: अन्य विवि से दूरस्थ शिक्षा में डिग्री प्राप्त की है. उसके आधार पर पुन: विवि के एमए लोक प्रशासन विषय में प्रवेश लिया है. इस डिग्री की विवि से गहन जांच की मांग की गई थी.

सबसे बड़ी बात यह है कि छात्र विक्रम नागर 2018-19 एमएसडब्ल्यू फाइनल की परीक्षा में अनुपस्थित रहा. आपत्ति के बाद विवि प्रशासन के स्तर पर गठित कमेटी ने विक्रम नागर के दस्तावेजों की जांच की. जांच में विवि में प्रबंधन मंडल के आदेश प्रसारित होते है, लेकिन विवि के संविधान को दरकिनार कर 19 अगस्त 2018 का कॉलेज आयुक्तालय का आदेश का हवाला देते हुए छात्र विक्रम नागर को चुनाव के लिए योग्य घोषित कर दिया.

कोटा विवि के कुलसचिव प्रो. एससी शर्मा का कहना था कि, छात्र विक्रम नागर के डिग्री को लेकर आपत्ति थी. डिग्री का वेरिफिकेशन कम्प्लीट नही हुआ था. कल वोट डाले जाने है. लेकिन वेरिफिकेशन कम्प्लीट नही होने से यूनिवर्सिटी प्रशासन ने छात्र का वेरिफिकेशन फर्सनली करवाने का फैसला लिया. परीक्षा नियंत्रक को इस काम के लिए भेजा जाएगा.

वो डिग्री को वेरीफाई करके एक-दो दिन में रिपोर्ट देंगे. इस कारण विश्व विद्यालय प्रशासन ने चुनाव स्थगित करने का फैसला लिया है. इस मामले में विवि ने राज्य सरकार से मार्गदर्शन मांगा है.