close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चित्तौड़गढ़: दुर्ग के पास अतिक्रमण हटाने का व्यापारियों ने किया विरोध, बंद की दुकानें

व्यापारियों के अनिश्चतकालीन बंदी और शांतिपूर्ण प्रदर्शन के दौरान यहां आने वाले पर्यटकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. 

चित्तौड़गढ़: दुर्ग के पास अतिक्रमण हटाने का व्यापारियों ने किया विरोध, बंद की दुकानें
पर्यटकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. (प्रतीकात्मक फोटो)

चित्तौड़गढ: चित्तौड़गढ दुर्ग पर ऐतिहासिक इमारतों और स्थलों के पास अतिक्रमण को भारतीय पुरातत्व एवं सर्वेक्षण विभाग ने हटाने का निर्णय लिया है. जिसके विरोध में व्यापारियों, ठेला व थड़ी व्यवसायियों ने रविवार से अपने प्रतिष्ठान बंद रखा है. इस दौरान व्यापारियों ने अनिश्चतकालीन बंदी के साथ शांतिपूर्ण प्रदर्शन भी किया. इस दौरान यहां आने वाले पर्यटकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. 

दुर्ग के व्यापारियों के अनुसार, बेरोजगार युवा फोटोग्राफर, गाइड, थडी वाले फूल माला प्रसाद आदि का काम करने वाले स्थानीय लोगों को प्रशासन दुर्ग पर अतिक्रमी मान रही है. इस दौरान प्रशासन, पुरातत्व विभाग और नगरपरिषद ने बिना कोई विधिक प्रक्रिया अपनाए इन स्थलों से बेदखल करना चाह रही है. जबकि समस्त दुर्ग पर जो भी व्यक्ति व्यवसायिक दृष्टि से व्यवसाय कर रहा है. उनके पास नगरपरिषद से जारी फुटकर विक्रेता कार्ड तथा थानाधिकारी के निर्देश पर चौकी प्रभारी का जारी कार्ड है. 

लाइव टीवी देखें-:

बताया जा रहा है कि प्रशासन और एएसआई विभाग कुछ दिनों के अंदर अभियान चलाकर कब्जेधारियों को बेदखल करने की कार्यवाही करने जा रही है. जिसका दुर्गवासियों ने शांतिपूर्ण तरीके से करने का निर्णय लिया है. इस दौरान चित्तौड़गढ दुर्ग आने वाले पर्यटकों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ा.