अनलॉक-2 के समय राजस्थान के इस जिले में फिर हुआ Lockdown, इतने अधिक कोरोना मरीज

बाड़मेर शहर में बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकने एवं कोरोना वायरस के प्रभावी रोकथाम पर चर्चा के लिए कलेक्ट्रेट सभागार में जिला कलेक्टर विश्राम मीणा की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई.

अनलॉक-2 के समय राजस्थान के इस जिले में फिर हुआ Lockdown, इतने अधिक कोरोना मरीज
प्रतीकात्मक तस्वीर

भूपेश आचार्य, बाड़मेर: राजस्थान के बाड़मेर शहर में बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकने एवं कोरोना वायरस के प्रभावी रोकथाम पर चर्चा के लिए कलेक्ट्रेट सभागार में जिला कलेक्टर विश्राम मीणा की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई. इस बैठक में स्थानीय विधायक मेवाराम जैन समेत नगर पार्षद, नगर के विभिन्न व्यापार समूह से जुड़े पदाधिकारी, स्वयंसेवी संगठन एवं सिविल सोसायटीयों के प्रतिनिधियों ने शहर में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए एहतियाती उपायों के अंतर्गत दोबारा लॉकडाउन तथा जीरो मोबिलिटी पर विस्तृत विचार विमर्श कर एक सप्ताह  केलिए बाड़मेर शहर में पूर्ण रूप से लॉक डाउन लगा दिया गया है. 

ये भी पढ़ें: कानपुर हमले को लेकर UP और केंद्र सरकार पर CM गहलोत ने बोला हमला, कहा कि...

जिला कलेक्टर विश्राम मीणा ने कहा कि पिछले 1 सप्ताह के दौरान बाड़मेर शहर में कोरोना वायरस का तेजी से संक्रमण बढ़ा है, जिससे शहर में हॉटस्पॉट में भी बढ़ोतरी हुई है. उन्होंने कहा कि कोरोना के पॉजिटिव केसों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. जिले में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा 400 को पार कर गया है. ऐसे में मानव जीवन को बचाना प्रशासन की सर्वोपरि प्राथमिकता है. उन्होंने कहा कि जिस तरह लॉकडाउन एक तथा दो में लोगों ने अनुशासन का परिचय देते हुए अपने आप को वायरस से सुरक्षित किया लेकिन अनलॉक एक एवं दो के बाद लोगों ने लापरवाही बरती है. इसी का परिणाम है कि वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ा है. ऐसे में आमजन को आत्मानुशासन की अति आवश्यकता है. तभी कोरोना के खिलाफ जंग जीती जा सकती है.

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा ने बताया कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए लोगों को स्वयं आगे आकर पहल करनी चाहिए एवं पुलिस को जबरदस्ती की बजाय सहयोग करना चाहिए. उन्होंने बताया कि सामाजिक सहयोग से ही इस वायरस पर विजय पाई जा सकती है. उन्होंने कहा कि लोगों को पुलिस मित्र के रूप में आगे आना चाहिए एवं पुलिस का सहयोग कर इस लड़ाई से मुकाबला करना चाहिए.

ये भी पढ़ें: अब दुनिया में गूंजा 'राजस्थान मॉडल', सात समंदर पार CM गहलोत के नेतृत्व की चर्चा