जोधपुर में फिर हुआ टिड्डियों हमला, कृषि विभाग ने किया दवाइयों का छिड़काव

ग्रामीणों का आरोप है की क्षेत्र में पिछले कई दिनो से किसानों की फसले चट कर रही थी. साथ ही किसानों का कहना ता कि टिड्डियों को लेकर कृषि विभाग के आलाधिकारी मौके पर नहीं पहुंच रहे हैं.

जोधपुर में फिर हुआ टिड्डियों हमला, कृषि विभाग ने किया दवाइयों का छिड़काव
जोधपुर में टिड्डियों का हमला हुआ है.

बालेसर: जोधपुर के बालेसर क्षैत्र सहित आस-पास गांव में रविवार को भारी तादाद में टिड्डी दल ने पड़ाव डाला है. रविवार को बालेसर, बालेसर दुर्गावता, रावलगढ़, जियाबेरी सहित आसपास के गांव में पेड़ों पर बैठी टिड्डियों के दल पर नियंत्रण के लिए टिड्डी विभाग व कृषि विभाग की तरफ से फायर ब्रिगेड की गाड़ी से किटनाशक दवाइयों के छिड़काव किया गया.

वहीं, ग्रामीणों का आरोप है की क्षेत्र में पिछले कई दिनो से किसानों की फसले चट कर रही थी. साथ ही किसानों का कहना ता कि टिड्डियों को लेकर कृषि विभाग के आलाधिकारी मौके पर नहीं पहुंच रहे हैं.

बता दें कि, राजस्थान के गांवों व खेतों में फसल खराबे को अंजाम देने के बाद टिड्डी दल ने शहर का रुख करते हुए फलोदी पहुंच गया था. जानकारी के अनुसार लाखों की संख्या में टिड्डी दल शुक्रवार को फलोदी पहुंचा था. जहां शहर में टिड्डी दल को देख एक तरफ जहां अफरातफरी का माहौल व्याप्त हो गया था.

काले बादल की शक्ल में आंधी की तीव्र गति से टिड्डी दल फलोदी शहर में ओवरब्रिज व अंडरब्रिज के उपर से होते हुए शहर में प्रवेश कर गया. हालांकि, यहां शहर में टिड्डी दल द्वारा किसी भी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचाया गया. लोगों में खासकर सड़कों पर दौड़ते वाहनों को एक बार जरूर रोक दिया. फिलहाल, प्रशासन टिड्डी दल की रोकथाम को लेकर अपने स्तर पर कार्रवाई में लगा है.

गौरतलब है कि, राजस्थान के बाड़मेर में टिड्डी का प्रकोप जहां खेतों में खड़ी फसल को बर्बाद कर रही है. वहीं, राजस्थान में फसलों पर टिड्डियों के हमले से उत्पन्न स्थिति की गंभीरता को देखते हुए केंद्र सरकार ने 10 माइक्रोनेयर स्प्रेयर खरीदने का फैसला किया है और अंतरराष्ट्रीय कंपनी माइक्रोन को माइक्रोनेयर स्प्रेयर मुहैया करवाने का ऑर्डर दिया गया है. खबर के मुताबिक, ये मशीनें जल्द भारत पहुंच जाएंगी और इनका इस्तेमाल किए जाने से टिड्डी नियंत्रण कार्य को गति मिलेगी.