उदयपुर: आदिवासी युवाओं के उपद्रव पर दिलावर का हमला, BTP-गहलोत सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

दिलावर ने बीटीपी प्रदेशाध्यक्ष वेलाराम गोगरा, बीटीपी विधायक राजकुमार रौत सहित कई लोगों पर नक्सलियों से मिलीभगत रखने और उनसे ट्रेनिंग लेने का आरोप लगाया है.

उदयपुर: आदिवासी युवाओं के उपद्रव पर दिलावर का हमला, BTP-गहलोत सरकार पर लगाए गंभीर आरोप
मदन दिलावर के नेतृत्व में एक टीम ने प्रभावित क्षेत्र का दौरा कर लोगों से मुलाकात की.

अविनाश जगनावत/उदयपुर: राजस्थान में वर्ष 2018 की शिक्षक भर्ती परीक्षा में टीएसपी (TSP) क्षेत्र में रिक्त रही अनआरक्षित सीटों (Unreserved Seats) पर भर्ती को लेकर आदिवासी (Tribals) युवाओं का एनएच-8 (NH-8) पर हुआ उपद्रव तो शांत हो गया है. लेकिन इस उपद्रव को लेकर राजस्थान की सियासत अब गरमाने लगी है.

इस पूरे मामले को लेकर बीजेपी (BJP) के वरिष्ठ नेता मदन दिलावर (Madan Dilawar) के नेतृत्व में एक टीम ने प्रभावित क्षेत्र का दौरा कर लोगों से मुलाकात की. इस पूरे मामले को लेकर दिलावर मंगलवार को उदयपुर के सर्किट हाउस में मीडिया से रूबरू हुए. इस दौरान उन्होने बीटीपी (BTP) के साथ सरकार और अधिकारियों पर कई गंभीर आरोप लगाए.

दिलावर ने बीटीपी प्रदेशाध्यक्ष वेलाराम गोगरा, बीटीपी विधायक राजकुमार रौत सहित कई लोगों पर नक्सलियों से मिलीभगत रखने और उनसे ट्रेनिंग लेने का आरोप लगाया है. यही नहीं उन्होने आरएएस (RAS) अधिकारी महावीर खराडी और आईपीएस (IPS) अधिकारी कालुराम रावत पर उपद्रवियों को धन उपलब्ध करवाने का आरोप लगाया है.

उन्होने कहा कि यहां के लोग नक्सलियों के साथ मिले हुए हैं. उनसे ट्रनिंग लेते हैं और फिर यहां आकर आदिवासी लोगों को भ्रमित करने का काम करते है. ये लोगों यहा आतंकियों को भाषा बोल रहे हैं और यहा के भोले भाले आदिवासियों को बरगलाने का प्रयास कर रहे हैं.

दिलावर ने राजस्थान सरकार से इन तमाम लोगों की उपद्रव में भूमिका पर उच्य स्तरिय जांच करवाने की मांग की. इस पूरे उपद्रव के पीछे उन्होने सरकार पर भी लापरवाई बरतने का आरोप लगाया है.