महाराष्ट्र: कुआं खोदते हुए हादसे का शिकार हुए भीलवाड़ा के 3 मजदूर, मौत

विधायक जाट ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से घटना के संबंध में वार्ता कर मृतकों के परिजनों को मुख्यमंत्री राहत कोष से एक एक लाख रुपये आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है.

महाराष्ट्र: कुआं खोदते हुए हादसे का शिकार हुए भीलवाड़ा के 3 मजदूर, मौत
प्रतीकात्मक तस्वीर

भीलवाड़ा: राजस्थान के भीलवाड़ा जिले के करेड़ा थाना क्षेत्र के तीन मजदूरों की महाराष्ट्र के नाशिक जिले में कुए को खोदने के दौरान हुए हादसे में दर्दनाक मौत हो गई. जिसके बाद गांव में मातम छा गया है. जानकारी के मुताबिक करेड़ा थाना क्षेत्र के पिपलिया और लक्ष्मीपुरा गांव के तीन श्रमिक महाराष्ट्र में मजदूरी करते थे. 

बुधवार को कुआ खोदते हुए तीनों श्रमिक एक हादसे का शिकार हो गए. जिसके चलते तीनों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. गुरुवार को तीनों युवको के शव को पैतृक गांव लाया गया तो परिजनो सहित गांव वालों की आंखे नम हो गई. गांव में जैसे ही शव पहुंचे तो करेड़ा थाना पुलिस, तहसीदार भी मौके पर पहुंचे. 

विधायक जाट ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से घटना के संबंध में वार्ता कर मृतकों के परिजनों को मुख्यमंत्री राहत कोष से एक एक लाख रुपये आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है. जिसके बाद नारायण सिंह रावत, धर्मराज गुर्जर के शव का अंतिम संस्कार हो गया जबकि धना सिंह रावत के परिजन अभी भी शव लेने से इनकार कर रहे हैं. मौके पर भारी भीड़ मौजूद है. करेड़ा थाना प्रभारी बिहारीलाल और दिवान शिवराज सहित पुलिस जाब्ता और अन्य लोग परिजनों को समझाने का प्रयास कर रहे है.