राजस्थान में रेत के बवंडर ने जमकर मचाई तबाही, कई लोग हुए जख्मी

राजस्थान के बाड़मेर में शनिवार रात 11:00 बजे के आसपास पूरा मौसम बदल गया और रेत का बवंडर शहर में घुस गया.

राजस्थान में रेत के बवंडर ने जमकर मचाई तबाही, कई लोग हुए जख्मी
रेत के बवंडर लगातार 48 घंटों के चल रहा है

बाड़मेर: राजस्थान के रेगिस्तान में पिछले 48 घंटे में रेत के बवंडर ने जमकर तबाही मचाई है. आलम यह है कि पिछले 48 घंटों में डेढ़ दर्जन लोग घायल हो चुके हैं. रेत की चादर घरों साथ साथ सड़कों पर खड़ी कारों पर भी नजर आई. वहीं लगातार रेत के बवंडर के चलते अब लोगों को साथ में भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. साथ ही 48 घंटों में मौसम विभाग में रेगिस्तान में रेत के बवंडर और बारिश की चेतावनी भी दी है.

राजस्थान के बाड़मेर में शनिवार रात 11:00 बजे के आसपास पूरा मौसम बदल गया और रेत का बवंडर शहर में घुस गया. जिसके कारण विजिबिलिटी 5 से 10 मीटर हो गई. रेत का बवंडर चारों तरफ नजर आ रहा है आलम यह है कि रात के समय में रेतीली हवाओं के चलते कई घरों में बर्तन गिर गए. जब सुबह लोग उठे तो उन्हें अपनी गाड़ियों पर रेत की चादर नजर आई. 

बाड़मेर शहर के निवासी प्रेम सिंह के अनुसार रात को जब वह अपने परिवार के साथ घर में सो रहे थे तो अचानक ही रेत का तूफान आया जिसके चलते उनके घर के सारे बर्तन इधर उधर हो गए. रात को तो प्रेम सिंह का परिवार भगवान से दुआ करता रहा कि किसी तरीके से यह देश का तूफान थम जाए अन्यथा कोई बड़ी आपदा ना आ जाए. जब सुबह प्रेम सिंह और उसका परिवार उठा पिछले 8 घंटों से अपने घर की साफ सफाई में जुटा है. प्रेम सिंह के अनुसार पहले रेतीला बवंडर कभी बाड़मेर में नहीं आया. रेत के बवंडर लगातार 48 घंटों के चल रहा है जिससे सांस लेने में भी दिक्कत हो रही है.

दिनभर की गर्मी से तो राहत मिली, लेकिन मिट्‌टी की गर्द ने लोगों को परेशान किया. रेतीली आंधी के कारण शहर में अंधेरा छा गया. ऐसे में पांच मीटर की दूरी के बाद कुछ भी नजर नहीं आ रहा था. धूल भरी आंधी की वजह से एक बारगी बीस मिनट तक हाईवे सहित शहर की मुख्य सड़कों का ट्रैफिक जाम हो गया. धूल की वजह से कुछ भी नहीं दिखाई नहीं देने के कारण लोगों ने यथा स्थिति वाहनों को रोक दिया. करीब बीस मिनट बाद आंधी थमने पर वाहनों को रवाना किया. आंधी के दौरान पूरे शहर में मुख्य चौराहों व अस्पताल को छोड़कर बिजली कटौती कर दी गई. इस कारण शहर की गलियों में पूरी तरह अंधेरे छा गया. 

वहीं मौसम विभाग अगले 48 घण्टे में ऐसे ही रेत के गुब्बार के फिर आने की आशंका जताई है. अतिरिक्त जिला कलेक्टर राकेश कुमार के अनुसार पिछले 48 घंटों में बवंडर के कारण कई लोग जख्मी हुए हैं, यह लोग अस्पतालों में भर्ती है, मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों में फिर से रेतीले बवंडर के साथ ही भारी बारिश की चेतावनी दी है जिसको चलते हमने पूरे प्रशासनिक अमले को अलर्ट पर रखा है.