close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जोधपुर: मामा ने किया अपने ही भांजे का कत्ल, जांच में जुटी पुलिस

देचू थाना क्षेत्र में सोमवार को ही एक वारदात में रिश्तो को तार-तार कर रख दिया जब एक कलयुगी मामा ने अपने ही भांजे का बेरहमी से कत्ल कर दिया.

जोधपुर: मामा ने किया अपने ही भांजे का कत्ल, जांच में जुटी पुलिस
परिजनों ने बताया कि मामा भांजे में पुरानी रंजिश चल रही थी.

जोधपुर: प्रदेश के जोधपुर जिले के देचू थाना अंतर्गत चामू के गोदेलाई गांव में कथित रूप से ऑनर किलिंग का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. मामा व एक अन्य ने मिलकर अपने ही भाणजे को फोन करके घर बुलाया, फिर बंधक बनाकर पीट-पीटकर की हत्या कर दी. देचू थाना में मृतक के भाई ने नामजद मामला दर्ज करवाया. पुलिस ने 3 आरोपियों को हिरासत में लिया है.

देचू थाना क्षेत्र में सोमवार को ही एक वारदात में रिश्तो को तार-तार कर रख दिया जब एक कलयुगी मामा ने अपने ही भांजे का बेरहमी से कत्ल कर दिया. थानाधिकारी जयकिशन सोनी ने बताया कि सुख मंडला निवासी टीकूराम पुत्र भीखाराम जाट ने रिपोर्ट पेश कर बताया कि 29 जुलाई को मेरे भाई अचलाराम उर्फ अशोक कुमार को अचलाराम पुत्र भीखाराम निवासी गोदेलाई चामू ने फोन करके गोदेलाई बुलाया. फिर मेरे भाई अचलाराम उर्फ अशोक कुमार को गोदेलाई निवासी मगाराम व प्रेमाराम दोनों पुत्र हीराराम जाट व असलाराम पुत्र भीखाराम ने अपहरण किया. जिसके बाद उन्हें बंधक बनाकर रात भर अपने घर के पीछे बबूल के पेड़ से बांधकर लाठियों से बुरी तरह पीटा. 

साथ ही परिजनों ने बताया कि मामा भांजे में पुरानी रंजिश चल रही थी. रात भर जब वह वापस नहीं आया तो परिजनों को चिंता हुई.उन्होंने मामा को फोन किया तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया. ऐसे में उनका शक बढ़ गया. वे सुबह उसका भाई गोदेलाई आया तब वह पेड़ के नीचे बंधा था, बेसुध पड़ा था. परिजनों ने चामू पुलिस चौकी प्रभारी राणीदानसिंह को इसकी सूचना दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घायल पड़े अचलाराम उर्फ अशोक की रस्सियां खोलकर चामू अस्पताल पहुंचाया. जब उसे गाड़ी में डाला था तब तक उसकी सांसें चल रही थी लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले उसकी मौत हो गई थी. डॉक्टरों ने देखते ही उसे मृत घोषित कर दिया. 

मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया गया.  फिलहाल पुलिस ने मामले के तीन आरोपियों को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है.