महात्मा गांधी-चाचा नेहरू के त्याग से नई पीढ़ी को अवगत कराने की जरूरत: भंवरलाल मेघवाल

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने बाल सप्ताह के अवसर पर आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों के लिए राज्य बाल संरक्षण आयोग (State child protection commission) की प्रशंसा की. 

महात्मा गांधी-चाचा नेहरू के त्याग से नई पीढ़ी को अवगत कराने की जरूरत: भंवरलाल मेघवाल
मेघवाल और बेनीवाल ने दीप प्रज्ज्वलन कार्यक्रम का शुभारंभ किया.

जयपुर: नई पीढ़ी को महात्मा गांधी एवं चाचा नेहरू के त्याग और बलिदान से अवगत कराना आवश्यक है, यह कहना था सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल (Bhanwarlal Meghwal) का. उन्होंने देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू को आधुनिक भारत का निर्माता बताते हुए कहा कि बच्चों को उनसे प्रेरणा लेनी चाहिए.  

मेघवाल बुधवार को एसओएस बालग्राम में 'बाल सप्ताह 2019' के समापन के अवसर पर बोल रहे थे. उन्होंने छोटे बच्चों को लघु फिल्मों के माध्यम से नेहरू-गांधी के महान व्यक्तित्व और कृतित्व की जानकारी देने पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि बच्चों के प्रति किसी प्रकार की हिंसा न हो, अमानवीय व्यवहार न हो और बाल अधिकारों को पूरा संरक्षण मिले यह सबसे महत्वपूर्ण बात है. उन्होंने विभाग द्वारा समाज के विभिन्न वर्गों के लिए संचालित की जाने वाली योजनाओं की जानकारी दी. आर्थिक पिछड़े वर्ग के आरक्षण की शर्तों में दी गई. राहत के लिए मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की सराहना की.

ये लोग रहे मौजूद
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने बाल सप्ताह के अवसर पर आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों के लिए राज्य बाल संरक्षण आयोग (State child protection commission) की प्रशंसा की. कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि राज्य बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल ने कहा कि बाल प्रतिभाओं को निखारने के लिए उनके अधिकारों का संरक्षण आवश्यक है और आयोग इस दायित्व के लिए प्रतिबद्ध है. इस दौरान आयोग के सदस्य डॉ. विजेंद्र, प्रहलाद सहाय रोज एवं डॉ. सीमा भी उपस्थित थे.

दिया ऊंचाई प्राप्त करने का संदेश 
इससे पहले मेघवाल और बेनीवाल ने दीप प्रज्ज्वलन कार्यक्रम का शुभारंभ किया. उन्होंने इस अवसर पर नीम और सायकस का पौधरोपण किया. मेघवाल ने इन पौधों की देखभाल करने के लिए कहा. दोनों अतिथियों ने बच्चों के हाथों से आकाश में गुब्बारे उड़वाकर जीवन में ऊंचाई प्राप्त करने का संदेश दिया. इस अवसर पर बालग्राम की प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया.

र्यक्रम में बालग्राम के अध्यक्ष देवेंद्र पुरी, संस्थापक परिवार के सदस्य अजय अटल, नंदिनी अटल, बालग्राम निदेशक संजीव भट्ट, सचिव श्रीमती अंजलि सहित बालग्राम के बच्चे उपस्थित थे. अतिथियों ने बालग्राम के 'भवन हाऊस' का निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाओं की जानकारी ली. कार्यक्रम में बच्चों ने चाचा नेहरू पर कविता, गणेश वंदना और बालिका शिक्षा पर नाटिका का मंचन किया.