राजस्थान: 6 दिन से लापता हुए Army Officer का शव बरामद, अभ्यास के दौरान लगाई थी छलांग

इस अभियान में तीनों सेनाओं के लगभग 200 सुरक्षाकर्मी और अन्य विशेषज्ञ लगे हुए थे. गुप्ता ने छह दिन पहले एक अभ्यास के दौरान हेलीकॉप्टर से तखत सागर में छलांग लगई थी और इसके बाद वह लापता हो गए थे.

राजस्थान: 6 दिन से लापता हुए Army Officer का शव बरामद, अभ्यास के दौरान लगाई थी छलांग
6 दिन से लापता हुए Army Officer का शव बरामद, (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जयपुर: जोधपुर के एक जलाशय में छह दिन पहले डूबे सेना के पैरा कमांडो (स्पेशल फोर्सेज) के कैप्टन अंकित गुप्ता का शव आखिरकार मंगलवार को मिल गया. एक अभ्यास के दौरान कैप्टन गुप्ता जोधपुर के तखत सागर जलाशय के पानी में डूब गए थे, जिनके पार्थिव शरीर को आखिरकार मंगलवार को एक बड़े खोज अभियान के बाद ढूंढ लिया गया. 

इस अभियान में तीनों सेनाओं के लगभग 200 सुरक्षाकर्मी और अन्य विशेषज्ञ लगे हुए थे. गुप्ता ने छह दिन पहले एक अभ्यास के दौरान हेलीकॉप्टर से तखत सागर में छलांग लगई थी और इसके बाद वह लापता हो गए थे. सेना के विशेषज्ञ तभी से इस जलाशय में उनकी तलाश कर रहे थे, जो 51 फीट गहरा है.

उन्हें खोजने के लिए सेना ने देशभर से अपने विशेषज्ञों, गोताखोरों और कमांडो को बुलाया था. पिछले पांच दिन में टीम उन्हें नहीं खोज सकी थीं. लेकिन, मंगलवार को दोपहर बाद उनका शव तखत सागर की गहराई में एक जगह फंसा हुआ मिला. जानकारी के मुताबिक, कैप्टन गुप्ता का शव पत्थरों के बीच अटक गया था.

इस वजह से वह पानी के ऊपर नहीं आ सके. मंगलवार को रेस्क्यू टीम की तरफ से पानी में डाला गया एंकर उनकी ड्रेस में फंस गया, जिसके बाद उनका पार्थिव शरीर बाहर निकाला जा सका. पैरा कमांडो स्पेशल फोर्सेज का पूरे साल अभ्यास चलता रहता है. 10 पैरा कमांडो गुप्ता को एक हेलिकॉप्टर से पहले अपनी नाव (बोट) को पानी में फेंककर खुद कूदना था.

इसके बाद उन्हें अभ्यास के तौर पर बोट पर सवार होकर दुश्मन पर हमला बोलना था. उस दिन (गुरुवार को) कैप्टन अंकित के नेतृत्व में चार कमांडो ने तखत सागर में पहले अपनी नाव को फेंका और उसके बाद खुद पानी में कूद गए. अभ्यास में शामिल हुए तीन कमांडो तो नाव पर पहुंच गए, लेकिन कैप्टन अंकित नहीं पहुंच पाए.

उनके साथी कमांडोज ने खुद भी पानी में उतर कर खोज शुरू की. कमांडों ने घटना की सूचना जोधपुर मुख्यालय को दी. इसके बाद विशेषज्ञों की टीम ने बचाव अभियान शुरू किया. गुप्ता की पिछले साल नवंबर में शादी हुई थी.

(इनपुट-आईएएनएस)