close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान में बीजेपी का ये अभियान बढ़ाएगा कांग्रेस की मुसीबत!

सदस्यता अभियान 6 जलुाई से बड़े पैमाने पर शुरू होगा और प्रदेश में नई सदस्य संख्या का पिछड़ा रिकॉर्ड तौड़ने की तैयारी हैं. 

राजस्थान में बीजेपी का ये अभियान बढ़ाएगा कांग्रेस की मुसीबत!
6 जुलाई को बड़े पैमाने पर अभियान का शुभारंभ होगा. (फाइल फोटो)

जयपुर: राजस्थान में भाजपा अपना कुनबा बढ़ाने जा रही है. प्राथमिक सदस्यों के अलावा सक्रिय सदस्यों की संख्या में रिकॉर्ड इजाफे की तैयारी भाजपा की है. इसके लिए 6 जुलाई से प्रदेशभर में विशेष सदस्यता अभियान चलेगा. अभियान में नव मतदाता, युवा, अल्पसंख्यक और अन्य पार्टी के सदस्यों को अपना बनाने की कोशिश होगी. प्रदेश भाजपा कार्यालय में हुई बैठक में राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री वी सतीश, चंद्रशेखर, अभियान संयोजक सतीश पूनिया, अशोक परनामी, राजेन्द्र राठौड़ मौजूद रहे. 

विरोधियों को बनाएंगे अपना
प्रदेश भाजपा लोकसभा चुनावों में भारी समर्थन से उत्साहित हैँ, इसे बनाए रखने के लिए अपनी सदस्य संख्या में इजाफा करने की तैयारी में हैँ. सदस्यता अभियान 6 जलुाई से बड़े पैमाने पर शुरू होगा और प्रदेश में नई सदस्य संख्या का पिछड़ा रिकॉर्ड तौड़ने की तैयारी हैं. 

प्रदेश भाजपा मुख्यालय में नए सदस्य बनाने की कार्ययोजना तय करने लिए अहम बैठक हुई. बैठक में जिलों के संयोजक, सहसंयोजक, मौर्चा प्रकोष्ठ अध्यक्ष, संभाग प्रभारी और प्रदेश पदाधिकारी मौजूद रहे. इन्हें राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री वी सतीश, चंद्रशेखर, अभियान संयोजक सतीश पूनिया, अशोक परनामी, राजेन्द्र राठौड़ ने मार्गदर्शन दिया. दो चरणों में आयोजित कार्यशाला में पदाधिकारियों की अभियान की कार्ययोजना की जानकारी दी गई. 

52 हजार बूथों तक होगी पहुंच
सदस्यता अभियान के प्रदेश संयोजक सतीश पूनिया ने बताया कि 52 लाख सदस्य नए सदस्य पिछली बार बनाए गए थे, इनमें 35,208 सक्रिय सदस्य थे. इस बार सर्व स्पर्शी और सर्व व्यापी स्लोगन के साथ यह अभियान चलेगा. इसमें भाजपा के सातों मोर्चों का सहयोग लिया जाएगा. 

अभियान में सभी बूथ तक पहुँचने का लक्ष्य हैं. 52 हजार में से 42 हजार बूथों पर लोकसभा चुनावों में जीत मिली थी, जिन दस हजार बूथों पर हार हुई थी उन बूथों पर अधिक ध्यान दिया जाएगा. सह संयोजक चित्तोडगढ़ सांसद सीपी जोशी ने बताया कि प्रत्येक बूथ पर 100 नए सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा गया हैं. 7,973 विस्तारक सदस्य 1 हफ्ते तक सक्रिय काम करेंगे इसमें सांसद, विधायक, निकाय प्रतिनिधि और पंचायत प्रतिनिधियों सहित 13,035 जनप्रतिनिधियों का भी सहयोग लिया जाएगा. इस बार 1,25,000 सक्रिय सदस्य बनाने का भी टारगेट हैँ. 6 जुलाई को बड़े पैमाने पर अभियान का शुभारंभ होगा.

कांग्रेस के मुकाबले बढ़ेंगे सदस्य
भाजपा की प्रदेश में भले ही सरकार नहीं हो लेकिन अपने कार्यकर्ताओं को सक्रिय होने के लिए लगातार काम कर रही हैं. विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा हैं, जिसमें कार्यकर्ताओं को जनता के बीच रहने और भाजपा की विचारधारा में प्रयास के नए लक्ष्य दिए जा रहे हैँ. 

इसके उलट कांग्रेस अपने ही बनाए जाल में उलझी हुई. सत्ता और संगठन के स्तर पर भाजपा के मुकाबले पिछड़ रही हैं. राजनीति के जानकारों का कहना हैँ कि भाजपा के ऐसे अभियानों को टक्कर देने के लिए कांग्रेस को भी फुल फ्रूफ प्लान बनाना होगा.