धौलपुर: टाइगर के मूवमेंट से इलाके में हड़कंप, लोगों को मिली घरों में रहने की हिदायत

वन विभाग की टीम ने मंगलवार को बाड़ी क्षेत्र के आधा दर्जन से अधिक डांग क्षेत्रों का दौरा किया है.

धौलपुर: टाइगर के मूवमेंट से इलाके में हड़कंप, लोगों को मिली घरों में रहने की हिदायत
लोगों ने बाड़ी क्षेत्र में टाइगर के मूवमेंट होने की जानकारी से अवगत कराया था.

धौलपुर: जिले के बाड़ी और सरमथुरा उपखंड इलाके में टाइगर के पदचिन्ह मिलने से लोगों में दहशत बनी हुई है. वन विभाग की टीम ने मंगलवार को बाड़ी क्षेत्र के आधा दर्जन से अधिक डांग क्षेत्रों का दौरा किया है. वन विभाग की टीम को टाइगर के पद चिन्ह भी मिले हैं. वन विभाग की टीम ने आधा दर्जन से अधिक गांवों के लोगों को सतर्क किया है. टाइगर को पकड़ने के लिए वन विभाग ने बाड़ी और सरमथुरा क्षेत्र में टीम गठित कर दी है. लोगों को घर बाहर नहीं जाने की हिदायत भी दी गई है.

जिला वन अधिकारी कैलाश मीणा ने जानकारी देते हुए बताया कि बाड़ी और सरमथुरा क्षेत्र के लोगों ने सूचना दी थी. लोगों ने बाड़ी क्षेत्र में टाइगर के मूवमेंट होने की जानकारी से अवगत कराया था. ग्रामीणों की सूचना पर मंगलवार को वन विभाग की टीम ने रामसागर, सहेली, रामबाग, महारानी पैलेस, संत नगर मार्ग सहित डांग इलाके में टाइगर के पद चिन्ह और मूवमेंट मिले हैं. 

वन विभाग की टीम ने ग्रामीणों से रूबरू होकर सावधानी पूर्वक रहने की हिदायत दी है. मीणा ने बताया कि पदचिन्ह टाइगर के ही पाए गए. टाइगर की उम्र करीब 2 वर्ष के आसपास है और अभी परिपक्व नहीं है. फिर भी इस उम्र का टाइगर हमला करने में सक्षम होता है. ऐसे में ग्रामीणों को घरों से बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी गई है. बच्चों को भी बाहर खेलने के लिए नहीं भेजें.

वन अधिकारी मीणा ने बताया कि टाइगर को पकड़ने के लिए बाड़ी और सरमथुरा क्षेत्र में अलग-अलग टीम का गठन किया गया है. साथ ही टाइगर का मूवमेंट होने पर ग्रामीणों से सहयोग की उम्मीद की जा रही है. टाइगर का मूवमेंट होने पर वन विभाग की टीम द्वारा रैस्क्यू कर लिया जाएगा. उधर सरमथुरा और बाड़ी क्षेत्र के लोगों में टाइगर के मूवमेंट और परिजनों को देखकर भय व्याप्त है.