नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल का ऐलान, अपने दम पर राजस्थान में चुनाव लड़ेगी आरएलपी

सांसद हनुमान बेनीवाल की राष्ट्रीय लोकतान्त्रिक पार्टी इस बार पूरे प्रदेश में पंचायतीराज चुनाव लड़ेगी. बेनीवाल ने खुद इसका ऐलान किया. 

नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल का ऐलान, अपने दम पर राजस्थान में चुनाव लड़ेगी आरएलपी
सांसद हनुमान बेनीवाल

शशि मोहन, जयपुर: सांसद हनुमान बेनीवाल(MP Hanuman Beniwal) की राष्ट्रीय लोकतान्त्रिक पार्टी इस बार पूरे प्रदेश में पंचायतीराज चुनाव लड़ेगी. बेनीवाल ने खुद इसका ऐलान किया. बेनीवाल ने कहा कि उनका पहला लक्ष्य कांग्रेस को साफ करना होगा. आरएलपी संयोजक ने कहा कि वे किसानों और बेरोजगारों के मुद्दे लेकर प्रदेश की जनता के बीच जाएंगे. 

बीजेपी और आरएलपी के गठजोड़ से नागौर सीट पर चुनाव जीतने वाले सांसद हनुमान बेनीवाल(MP Hanuman Beniwal) की पार्टी अब पंचायतीराज चुनाव भी लड़ेगी. बेनीवाल ने अपने दम पर चुनाव लड़ने की बात कही. नागौर सांसद ने कहा कि उनकी पार्टी कांग्रेस को कमजोर करने का काम कर रही है और राजस्थान से कांग्रेस का सफाया करने के मानस से ही पंचायतीराज चुनाव में ताल ठोकेगी. 

बेनीवाल ने कहा कि उनकी पार्टी इस बार किसानों और बेरोजगारों के मुद्दे लेकर जनता के बीच जाएगी. आरएलपी संयोजक ने कहा कि किसानों के कर्ज माफ कराने के साथ ही उनकी फसल का पूरा दाम दिलाना भी उनका मुद्दा होगा तो बेरोजगारों को भत्ते के लिए भी वे सरकार से जवाब मांगेंगे. 

आरएलपी(RLP) के चुनावी गठबंधन को लेकर बेनीवाल ने साफ कहा कि साल 2024 तक तो दिल्ली में मोदी और एनडीए के साथ उनका गठजोड़ है, लेकिन साथ ही बेनीवाल ने चेताते हुए कहा कि अगर राजस्थान में दोनों पार्टियों का मिलाजुला खेल दिखा तो उनके रास्ते अलग हो जाएंगे.

आरएलपी संयोजक ने कहा कि बीजेपी से उनका झगड़ा कभी नहीं रहा है. बेनीवाल ने कहा कि कुछ नेताओं को वे पहले ही रास्ता दिखा चुके हैं और जो बचे खुचे हैं उनको भी साइडलाइन कर देंगे. नागौर सांसद ने कहा कि उनकी पार्टी का वक्त तो अभी शुरू ही हुआ है. 

अपने अलग अंदाज के लिए समर्थकों में लोकप्रिय बनने वाले बेनीवाल पंचायतीराज चुनाव भी अपनी शैली में ही लड़ना चाहते हैं. हालांकि इस पर अभी कांग्रेस और बीजेपी में भी आकलन होगा कि पंचायतीराज चुनाव में आरएलपी के अकेले चुनाव लड़ने से किसको फायदा हो सकता है और किसको नुकसान?