close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोटा: रिश्वत लेते पकड़े गए IRS अधिकारी, एंटी करप्शन ब्यूरो ने बरामद किए करोड़ो

बताया जा रहा है कि रिश्वत का लेन-देन अफीम की खेती का पट्‌टा देने की एवज हुआ था.

कोटा: रिश्वत लेते पकड़े गए IRS अधिकारी, एंटी करप्शन ब्यूरो ने बरामद किए करोड़ो
सहीराम मीणा के जयपुर स्थित घर से बेनामी संपत्ति के कागज भी बरामद हुआ है.

हिमांशु मित्तल, कोटा: भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने गणतंत्र दिवस पर एक बड़ी कार्रवाई करते हुए केंद्रीय नारकोटिक्स विभाग के एडिशनल कमिश्नर डॉ. सहीराम मीणा को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. मामले में एसीबी ने मीणा को रिश्वत देने वाले अफीम काश्तकार के बेटे कमलेश धाकड़ को भी गिरफ्तार किया है.

बताया जा रहा है कि रिश्वत का लेन-देन अफीम की खेती का पट्‌टा देने की एवज हुआ था. इसके अलावा एसीबी ने 2.26 करोड़ रुपए नकद व 6 लाख रुपए का सोना तथा दर्जनों दुकानों व भूखंडों के दस्तावेज बरामद किया है.

रिश्वत मांगने के संबंध में शिकायत मिलने के बाद एसीबी आलोक त्रिपाठी के निर्देशन में इसकी मॉनिटरिंग एडीजी एसीबी सौरभ श्रीवास्वत को सौंपी गई थी. 

एसीबी के एएसपी ठाकुर चंद्रशील ने बताया कि सूत्रों की सूचना पर एसीबी ने गांव कनेरा, तहसील निंबाहेड़ा, चित्तौड़गढ़ निवासी आरोपी कमलेश धाकड़ के फोन को सर्विलांस पर लिया था. इसमें पता चला कि जिला अफीम अधिकारी चित्तौड़गढ़ ने कमलेश के पिता और अफीम काश्तकार नंदलाल धाकड़ को अफीम की खेती के लिए पट्‌टे का मुखिया नहीं बनाकर किसी अन्य किसान को बनाया गया था.

इसकी शिकायत कमलेश ने नारकोटिक्स ब्यूरो के अतिरिक्त कमिश्नर सहीराम मीणा को की थी. इस पर डॉ. सहीराम ने शिकायत पर कार्रवाई करने तथा पूर्व पट्‌टे के मुखिया को हटाने और कमलेश के पिता नंदलाल धाकड़ को मुखिया बनाने की एवज में पांच लाख रुपए की रिश्वत की मांग की गई थी. धाकड़ और सहीराम की बातचीत में शनिवार को सरकारी बंगले पर रिश्वत की रकम देना तय हुआ था. जिसके बाद एसीबी हैडक्वार्टर ने उसे ट्रैप करने के लिए स्पेशल ऑपरेशन रचा.

गणतंत्र दिवस पर कमलेश धाकड़ दोपहर के वक्त नारकोटिक्स के एडिशनल कमिश्नर मीणा के सरकारी आवास पर पहुंचा. जहां एक लाख रुपए रिश्वत की रकम लेते ही एसीबी टीम ने डॉ. सहीराम मीणा और रिश्वत देने वाले कमलेश धाकड़ को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया

मीणा के जयपुर स्थित घर से मिले प्रापर्टी के कागज 

डीजी आलोक त्रिपाठी ने बताया कि यह कार्रवाई एसीबी कोटा चौकी के प्रभारी एडिशनल एसपी ठाकुर चंद्रशील के नेतृत्व में एसीबी टीम ने की. मीणा के सरकारी कमरे से एसीबी ने 3.95 लाख रुपए भी बरामद कर लिए. इसके बाद उनके कोटा व जयपुर में शिव विहार स्थित निजी आवास की तलाश जारी है.

उन्होंने यह भी बताया कि कोटा में सहीराम की गिरफ्तारी के बाद एसीबी के एसपी शरद चौधरी के नेतृत्व में सहीराम के जयपुर में जगतपुरा शंकर विहार स्थित आवास की तलाशी ली गई. जिसमें करीब 2.27 लाख रुपए नकद, करीब 6.22 लाख कीमत के सोने चांदी के आभूषण, जयपुर में एक मैरिज गार्डन व पेट्रोल पंप के दस्तावेज बरामद हुए. 

इसी तरह, सांगानेर जयपुर में 1.2 हेक्टेयर कृषि भूमि के दस्तावेज मिले. इसके अलावा मुंबई में एक प्लॉट के दस्तावेजों के अलावा जयपुर में अलग अलग जगहों पर 25 दुकानों के कागजात मिले है. यही नहीं, तलाशी के दौरान लगभग जयपुर में 82 भूखंडों के दस्तावेज एसीबी ने बरामद किए. इस कार्रवाई के बाद नारकोटिक्स विभाग में हलचल मचा दी है