close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सीकर: जलदाय विभाग की लापरवाही आई सामने, आम लोगों की नहीं है सुध

पेयजल सप्लाई करने वाली मुख्य पेयजल टंकी का  छज्जा टूट कर पास के एक मकान पर जा गिरा. 

सीकर: जलदाय विभाग की लापरवाही आई सामने, आम लोगों की नहीं है सुध
जलदाय विभाग किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहा था. (प्रतीकात्मक फोटो)

सीकर: जिले के श्रीमाधोपुर कस्बे के नाथूसर गांव में गुरुवार को अचानक गांव में पेयजल सप्लाई करने वाली मुख्य पेयजल टंकी का  छज्जा टूट कर पास के एक मकान पर जा गिरा. गनीमत यह रही कि मकान में रह रहे लोगों को कोई नुकसान नहीं हुआ. 

जानकारी के अनुसार नाथूसर गांव में काफी वर्षों पुरानी एक बड़ी पेयजल सप्लाई की मुख्य टंकी बनी हुई है. जो काफी दिन से क्षतिग्रस्त है. घटना से पहले स्थानीय ग्रामीणों ने पहले भी कई बार ज्ञापन देकर और विरोध प्रदर्शन के माध्यम से जलदाय विभाग को टंकी की मरम्मत या दुरुस्त कर अन्य टंकी से पेयजल सप्लाई करने की मांग भी की थी. इसके बावजूद प्रशासन ने कोई ठोस कदम नहीं उठाए.

घटना के बाद मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने जलदाय विभाग के कार्य प्रणाली का विरोध जताया. घटना के बारे में जलदाय विभाग के अधिकारियों को करीब 3 घंटे से लगातार दूरभाष के माध्यम से सूचना देने के बावजूद भी जलदाय विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचने की जहमत नहीं उठाई. वहीं, ग्रामीणों ने जलदाय विभाग के अधिकारियों को 1 घंटे में मौके पर पहुंचने का अल्टीमेटम दिया. अन्यथा उन्हें मजबूरन वश होकर सड़क पर उतरना होगा.

श्रीमाधोपुर अजीतगढ़ स्टेट हाईवे को जाम करना पड़ेगा जिसकी समस्त जिम्मेदारी जलदाय विभाग के अधिकारियों के होगी. वहीं घटना के बाद यह प्रतीत हो रहा है कि जलदाय विभाग को किसी बड़े हादसे का इंतजार है.