नागौर के दो और नए क्षेत्रों में आए कोरोना पॉजिटिव के केस, मचा हड़कंप

नए मामले उन क्षेत्रों से आ रहे हैं, जो फर्स्ट फेज में कोरोना संक्रमण से बिल्कुल अछूते थे.

नागौर के दो और नए क्षेत्रों में आए कोरोना पॉजिटिव के केस, मचा हड़कंप
प्रतीकात्मक तस्वीर.

नागौर: जिले में अब एक बार फिर से कोरोना संक्रमितों के मामले सामने आने लगे हैं. इस बार चिंता का विषय यह है कि नए मामले उन क्षेत्रों से आ रहे हैं, जो फर्स्ट फेज में कोरोना संक्रमण से बिल्कुल अछूते थे और यह लगभग मामले दूसरे राज्यों से आये संक्रमित लोगों के हैं. 

राज्य सरकार जिस बात को लेकर आशंकित थी और जिसके चलते राज्य सरकार ने सीमाओं को सीज करने का फैसला भी लिया था लेकिन वो फैसला मजबूरी में वापस लेना पड़ा और अब उसी का नतीजा है कि रोज नए क्षेत्रों में कोरोना पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं. यह न केवल प्रशासन और चिकित्सा महकमे के लिए बल्कि आमजन के लिए भी चिंता का विषय बन गया है. 

12 मई की रात आई रिपोर्ट में जिले से छः नए पॉजिटिव मामले सामने आए, जिनमें से तीन के सैंपल डीडवाना बांगड़ अस्पताल में लिए गए थे और तीन के नागौर जेएलएन अस्पताल में. बांगड़ हॉस्पिटल से लिए गए सैंपल में से एक डीडवाना के नजदीक दौलतपुरा ग़ांव का युवक है जो 8 मई को बाइक से दिल्ली से डीडवाना पहुंचा था और 9 मई को इसका सैंपल लेने के बाद इसे दौलतपुरा क्वारंटाइन सेंटर में क्वारंटाइन कर दिया गया. कल रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दौलतपुरा स्कूल में कार्यरत समस्त स्टाफ और क्वारंटाइन सेंटर में क्वारंटाइन किये गए सभी लोगों के साथ साथ पॉजिटिव के परिजनोंके भी आज सैंपल लिए जाएंगे. 

वहीं, डेगाना के लुणीयास ग़ांव के पिता पुत्र जो महाराष्ट्र के भुसावर से अपने ग़ांव पहुंचे थे. उनकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आने के बाद पुलिस प्रशासन और मेडिकल की टीमें ग़ांव पहुंची और इन लोगों के संपर्क में आए सभी लोगों के सैंपल लेने की व्यवस्था की जा रही है. नागौर से लिए गए पॉजिटिव आए 3 सैंपल कुम्हारी ग़ांव के हैं और बासनी ग़ांव के नजदीक होने की वजह से अब यहां भी संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं. 
जिले में अब कोरोना पॉजिटिव के मामले बढ़कर 138 हो गए हैं, इनमें से 113 लोगों की दूसरी रिपोर्ट नेगेटिव आने पर इन्हें कोरोना मुक्त घोषित कर दिया गया है. डीडवाना के दौलतपुरा और डेगाना के लुणीयास ग़ांव को पूरी तरह से सीज कर दिया गया है जबकि कुम्हारी पहले से ही जीरो मोबिलिटी क्षेत्र घोषित किया गया है.