जयपुर एयरपोर्ट पर नए डिपार्चर हॉल की शुरूआत, AAI के चेयरमैन ने फीता काट किया लोकार्पण

एयरपोर्ट पर नया विस्तारित डिपार्चर हॉल शुरू किया गया है. नए हॉल में कई तरह की सुविधाएं शुरू की गई हैं. 

जयपुर एयरपोर्ट पर नए डिपार्चर हॉल की शुरूआत, AAI के चेयरमैन ने फीता काट किया लोकार्पण
नए हॉल में कई तरह की सुविधाएं शुरू की गई हैं.

दामोदर प्रसाद, जयपुर: जयपुर एयरपोर्ट पर अब यात्रियों को डिपार्चर हॉल में राहत मिल सकेगी. एयरपोर्ट पर नया विस्तारित डिपार्चर हॉल शुरू किया गया है. नए हॉल में कई तरह की सुविधाएं शुरू की गई हैं. 

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के चेयरमैन अरविंद सिंह ने फीता काटकर इसका लोकार्पण किया हालांकि यह एक रोचक पहलू है कि चेयरमैन निजी दौरे पर जयपुर आए थे. लोकार्पण करवाकर उनके दौरे को सरकारी बना दिया गया.
जयपुर एयरपोर्ट पर अब डिपार्चर वाले यात्रियों को नई सुविधाएं मिल सकेंगी. एयरपोर्ट प्रशासन ने नए बनाए गए डिपार्चर हॉल को शुरू कर दिया है. निजी दौरे पर जयपुर आए एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के चेयरमैन अरविंद सिंह के हाथों डिपार्चर हॉल का लोकार्पण करवाया गया. चेयरमैन ने फीता काटकर नए हॉल को आम यात्रियों के लिए समर्पित किया. 

इस मौके पर चेयरमैन ने एयरपोर्ट के नए डिपार्चर हॉल और मौजूदा बिल्डिंग का निरीक्षण भी किया. नए हॉल में यात्रियों की सुविधा के लिए 8 नए चेक इन काउंटर्स बनाए गए हैं. यहां से यात्री एस्केलेटर्स के जरिए बोर्डिंग के लिए जा सकेंगे. नए हॉल में यात्रियों के लिए पेयजल और वॉशरूम की नई सुविधाएं जोड़ी गई हैं. नए हॉल को मौजूदा डिपार्चर हॉल से भी जोड़ा गया है. साथ ही इसे द्वितीय मंजिल पर बने बोर्डिंग गेट संख्या 2 और 3 से भी जोड़ा गया है. 

इस तरह यात्री एयरोब्रिज वाले इन दोनों बोर्डिंग गेट से भी विमानों में जा सकेंगे. एयरपोर्ट निदेशक जेएस बलहारा ने बताया कि करीब 2700 वर्गमीटर क्षेत्र में बनाए गए नए हॉल में यात्रियों के लिए अत्याधुनिक सुविधाएं जोड़ी गई हैं. नए हॉल के साथ बोर्डिंग गेट जुड़ा होने से यहां यात्रियों को सीधे फ्लाइट में जाने का विकल्प भी होगा, यानी मौजूदा डिपार्चर हॉल में जाने की जरूरत नहीं रहेगी.

बिना जरूरी सुविधाएं जोड़े शुरू कर दिया नया डिपार्चर हॉल ?
- बिना सीटा सॉफ्टवेयर से जोड़े नए चेक इन काउंटर लगाए गए.
- यात्रियों के बोर्डिंग पास सीटा सॉफ्टवेयर के जरिए ही जारी होते हैं.
- इस कारण अभी नए हॉल से फ्लाइट शुरू करने में कई दिन लगेंगे.
- अभी कोई भी एयरलाइन नए डिपार्चर हॉल में आने को राजी नहीं.
- नए हॉल में फ्लाइट पकड़ने के लिए सीढ़ियां उतरकर बोर्डिंग गेट तक जाना होगा.
- नीचे उतरने के लिए एस्केलेटर या लिफ्ट सुविधा नहीं होने से परेशानी होगी.

एमओयू किया जा चुका है साइन 
जयपुर आए एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के चेयरमैन अरविंद सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि पिछले साल केंद्र सरकार के निर्देश पर एयरपोर्ट अथॉरिटी ने 6 एयरपोर्ट के निजीकरण की प्रक्रिया शुरू की थी. इनमें लखनऊ, अहमदाबाद और मंगलूरु एयरपोर्ट के निजीकरण को लेकर कल एमओयू साइन किया जा चुका है. अब 3 बचे हुए एयरपोर्ट, जयपुर, गुवाहाटी और त्रिवेन्द्रम का निजीकरण होगा, हालांकि इसमें अभी केंद्र सरकार की अप्रूवल होना बाकी है. राज्य सरकार के साथ जमीन के मतभेदों को लेकर सिंह ने कहा कि यह राज्य और केंद्र सरकार के बीच का मसला है, इसलिए इस बारे में वे कुछ नहीं कह सकते.

यात्रियों को भी मिलेगी राहत 
नए डिपार्चर हॉल के उद्घाटन के बाद चेयरमैन अरविंद सिंह एयर इंडिया की फ्लाइट से दिल्ली के लिए रवाना हो गए. लोकार्पण कार्यक्रम में एयरपोर्ट निदेशक जेएस बलहारा के अलावा सभी विभागाध्यक्ष, सीआईएसएफ के कमांडेंट वाईपी सिंह और एयरलाइंस के प्रतिनिधि भी मौजूद रहे. कुल मिलाकर कुछ दिन बाद नए हॉल को यात्रियों के लिए खोलने से यात्री सुविधाओं में निश्चित रूप से बढ़ोतरी होगी और यात्रियों को राहत भी मिलेगी.