NGT ने भीलवाड़ा DM और जिंदल शॉ लिमिटेड को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

याचिका में कहा गया है कि स्थानीय लोगों को रोजगार देने की शर्त पर जिंदल को खनन की अनुमति दी गई थी. इसके बावजूद जिंदल शॉ ने न तो पेड़ लगाए और ना ही स्थानीय लोगों को रोजगार दिया.

NGT ने भीलवाड़ा DM और जिंदल शॉ लिमिटेड को नोटिस जारी कर मांगा जवाब
NGT ने भीलवाड़ा DM और जिंदल शॉ लिमिटेड को नोटिस जारी किया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

महेश पारीक/जयपुर: एनजीटी (NGT) की भोपाल बैंच ने आदेश के बावजूद दस हजार पेड़ (Tree) नहीं लगाने पर भीलवाड़ा कलेक्टर और जिंदल शॉ लिमिटेड को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है. अधिकरण ने यह आदेश पर्यावरणविद बाबूलाल जाजू की एक्जीक्युशन याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया.

याचिका में कहा गया कि वर्ष 2015 में अधिकरण ने जिंदल शॉ को कोठारी नदी के किनारे दस हजार पेड़ लगाने, एसटीपी (STP) प्लांट लगाने और भीलवाड़ा शहर के आवारा पशुओं के लिए गौशाला बनाने के निर्देश देते हुए इसकी पालन सुनिश्चित करने के लिए स्थानीय कलेक्टर और परिषद के आयुक्त को निर्देश दिए थे.

वहीं, याचिका में कहा गया है कि स्थानीय लोगों को रोजगार देने की शर्त पर जिंदल को खनन की अनुमति दी गई थी. इसके बावजूद जिंदल शॉ ने न तो पेड़ लगाए और ना ही स्थानीय लोगों को रोजगार दिया. ऐसे में याचिका पेश कर अधिकरण से आदेश का पालन कराने की गुहार की गई है.