जालोर: मातृ शिशु स्वास्थ्य केंद्र की अव्यवस्थाओं ने खोली स्वास्थ्य विभाग की पोल

अस्पताल के बाहर चारों तरफ कचरे का ढेर लगा हुआ है और गंदे पानी की नालियां लीक हैं. इससे खतरनाक बीमारियां फैलने जैसी समस्याएं बनी हुई हैं लेकिन अस्पताल के विभागीय अधिकारियों की ओर से यहां कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है.

जालोर: मातृ शिशु स्वास्थ्य केंद्र की अव्यवस्थाओं ने खोली स्वास्थ्य विभाग की पोल
प्रतीकात्मक तस्वीर.

बबलू मीना, जालोर: जिले के सरकारी अस्पतालों में सफाई व्यवस्था का औचक निरीक्षण किए जाने पर यहां की व्यवस्थाओं की पोल खुल गई. यहां के मातृ शिशु स्वास्थ्य केंद्र अस्पताल में प्रसव सुविधा असुरक्षित हाथों में सामने आई है. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की व्यवस्थाओं की धज्जियां उड़ रही हैं.

आज जी मीडिया के कैमरे में सामने आया कि किस तरह अस्पताल परिसर में जगह-जगह कचरा बिखरा हुआ पड़ा है. ऐसा लगा कि जैसे कई दिनों से अस्पताल में सफाई नहीं हुई है. टॉयलेट्स की साफ-सफाई से लेकर अस्पताल परिसर में जगह-जगह दवाइयों के खोके पड़े हुए नजर आए और अस्पताल परिसर में बिना व्यवस्था जगह-जगह लोगों के चप्पल बिखरे हुए दिखे.

अस्पताल के बाहर चारों तरफ कचरे का ढेर लगा हुआ है और गंदे पानी की नालियां लीक हैं. इससे खतरनाक बीमारियां फैलने जैसी समस्याएं बनी हुई हैं लेकिन अस्पताल के विभागीय अधिकारियों की ओर से यहां कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है.

अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. इससे एक तरफ तो वह बीमारियों से पीड़ित होते ही हैं लेकिन इस गंदगी की वजह से और भी बीमार हो जाते हैं. प्रशासन और अस्पताल के कर्मचारी मूकदर्शक बने हुए बैठे हैं.