कोटा: मैरिज गार्डन पर चस्पा किए नोटिस, अगर शादी में 100 से ज़्यादा लोग हुए तो होगी सख़्त कारवाई

एक तरफ प्रभावी धारा-144 तो दूसरी तरफ नाइट कर्फ्यू. इन सबके बीच शादी-समारोहों में बड़ा जमावड़ा रोकने को लेकर सरकार की तरफ से जारी की गयी सख्त और संशोधित कोरोना (Coronavirus) गाइडलाइन. 

कोटा: मैरिज गार्डन पर चस्पा किए नोटिस, अगर शादी में 100 से ज़्यादा लोग हुए तो होगी सख़्त कारवाई
कोटा शहर पुलिस ने शहर के सभी मैरिज गॉर्डन्स पर चेतावनी नोटिस चस्पा कर दिये हैं.

कोटा: एक तरफ प्रभावी धारा-144 तो दूसरी तरफ नाइट कर्फ्यू. इन सबके बीच शादी-समारोहों में बड़ा जमावड़ा रोकने को लेकर सरकार की तरफ से जारी की गयी सख्त और संशोधित कोरोना (Coronavirus) गाइडलाइन. ऐसे ही माहौल में 25 नवंबर को देवउठनी एकादशी पर अबूझ सावों में ढेरों शादी समारोह होने हैं.

ऐसे में कोटा शहर पुलिस ने शहर के सभी मैरिज गॉर्डन्स पर चेतावनी नोटिस चस्पा कर दिये हैं. राज्य सरकार से निर्देश प्राप्त होने के बाद पुलिस प्रशासन मुस्तैद हो गया है और शादी समारोह स्थलों पर नोटिस बोर्ड  चस्पा किये गए हैं. समारोह में 100 से ज्यादा लोगों के शामिल नहीं करने की चेतावनी शहर के हर मैरिज गार्डन के बाहर लिख दी गई है. नोटिस में साफ साफ लिखा है अगर आदेशों की अवेहलना की गई तो पुलिस सख़्ती से पेश आते हुए 188 IPC के तहत मामला दर्ज करेगी. इसके साथ महामारी एक्ट में उल्लंघन के मामले भी कारवाई की जाएगी.

केंसिल होने लगी शादी की बुकिंग
वहीं, ऐसे नोटिस चस्पा होने के बाद और कोरोना से बिगड़ते हालातों के बीच शहर के ज़्यादातर शादी समारोह स्थलों पर बुकिंग केंसिल होने लगी हैं. लोग अपने घरों से शादी को पूरा करने की तैयारी में हैं. माना जा रहा है कि देवउठनी ग्यारस के साथ शहर में सैकड़ों शादियां होनी थी, जिनको लेकर के शहर का अमूमन हर मैरिज गार्डन और हॉल बुक था, लेकिन ऐसे हालातों के बीच और सख़्ती के डर से लोग मेरिज गार्डन की बुकिंग को केंसिल कर घर से ही शादी करने का विचार बना चुके हैं.

ये भी पढ़ें: कोरोना गाइड लाइन की पालना नहीं करना दूल्हे को पड़ा महंगा, घोड़ी पर ही कट गया चालान