Om Birla ने Budget Session से पहले Parliament House में सुविधाओं का किया निरीक्षण, कहा...

बिरला ने एजेंसियों को वैकल्पिक पार्किंग व्यवस्थाओं से संबंधित जानकारी और उपयुक्त मानचित्रों को संसद सदस्यों के साथ साझा करने का निर्देश दिया.

Om Birla ने Budget Session से पहले Parliament House में सुविधाओं का किया निरीक्षण, कहा...
बिरला ने संसद भवन में सुविधाओं का निरीक्षण किया.

जयपुर: लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बजट सत्र (Budget 2021) से पहले संसद भवन (Parliament House) में सुविधाओं का निरीक्षण किया. लोक सभा अध्यक्ष ने एजेंसियों को संसद भवन और संसद सदस्यों के आवासों के आसपास वाले क्षेत्रों में कोविड-19 (COVID-19) जांच केंद्रों की स्थापना करने का निर्देश दिया.

लोक सभा अध्यक्ष ने एजेंसियों को नए संसद भवन के निर्माण स्थल पर स्मॉग टावर तथा वायु और ध्वनि प्रदूषण की रोकथाम हेतु आवश्यक उपकरणों को स्थापित करने का निर्देश दिया. बिरला ने एजेंसियों को वैकल्पिक पार्किंग व्यवस्थाओं से संबंधित जानकारी और उपयुक्त मानचित्रों को संसद सदस्यों के साथ साझा करने का निर्देश दिया.

दरअसल, ओम बिरला ने आगामी बजट सत्र से पहले संसद भवन परिसर में विभिन्न सुविधाओं का निरीक्षण किया. उन्होंने लोक सभा सचिवालय, सीपीडब्ल्यूडी और अन्य एजेंसियों के अधिकारियों के साथ लोक सभा कक्ष, केंद्रीय कक्ष, गलियारों, लॉबियों, प्रतिक्षा कक्षों,  एवं संसद भवन में अन्य क्षेत्रों का दौरा किया.

इस बात पर बल देते हुए कि सत्र के दौरान सैनिटाइजेशन और फ्यूमिगेशन की बेहतरीन व्यवस्था की जाए. बिरला ने निर्देश दिया कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के मद्देनजर, सभी एजेंसियों को संभावित संक्रमण को रोकने के लिए एकजुट होकर काम करना चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि सत्र के दौरान मास्क पहनना, सैनिटाइजर का उपयोग करना और सभी स्थानों को सैनिटाइज करना अनिवार्य होने के कारण संसद भवन परिसर में अच्छी गुणवत्ता वाले मास्क, सैनिटाइज़र और अन्य एहतियाती उपकरणों और सामग्रियों की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित की जानी चाहिए.

बिरला ने कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुसार स्वास्थ्य संबंधी सावधानियां बरतने के भी निर्देश दिए और यह कहा कि संसद सदस्यों के लिए संसद भवन परिसर के साथ-साथ नार्थ और साउथ ब्लॉक, पंडारा रोड, बी.डी.  मार्ग और अन्य ऐसे स्थानों, जो संसद सदस्यों के आवास के निकट हैं, पर पर्याप्त संख्या में परीक्षण केंद्र स्थापित किए जाए.

उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि सत्र के दौरान संसद भवन परिसर में आने वाले दोनों सचिवालयों के सभी अधिकारियों और मंत्रालयों के अधिकारियों को भी परिसर में आरटी-पीसीआर और रैपिड एंटीजन परीक्षणों की सुविधा दी जाए. इसी तरह, नए संसद भवन के निर्माण में शामिल सभी कर्मचारियों और श्रमिकों की भी जांच की जाए.

निरीक्षण के दौरान बिरला को यह जानकारी दी गई कि नये संसद भवन  के निर्माण को देखते हुए सत्र के दौरान संसद सदस्यों की सुविधा हेतु पार्किंग की वैकल्पिक व्यवस्था भी की गई है. बिरला ने यह निदेश दिया कि संसद सदस्यों को व्हाट्सएप तथा दूरभाष के माध्यम से संसद भवन परिसर तथा उसके आसपास के क्षेत्र में पार्किंग की व्यवस्था तथा वाहनों की आवाजाही के संबंध में पहले से ही सूचना दी जाए ताकि, उनके आवागमन में कोई परेशानी न हो. उन्होंने यह निदेश भी दिया कि पार्किंग की वैकल्पिक व्यवस्था से संबंधित उपयुक्त मानचित्रों को सभी सदस्यों के साथ साझा किया जाए.

संसद भवन में आईटीडीसी द्वारा प्रदान की जा रही खान-पान सुविधाओं का निरीक्षण करते हुए बिरला ने संसद सदस्यों, मीडियाकर्मियों, दोनों सचिवालयों के अधिकारियों, कर्मचारियों तथा अन्य आगंतुकों को साफ, स्वच्छ और पौष्टिक भोजन की व्यवस्था करने वाली एजेंसियों को भी आवश्यक निर्देश दिए. उन्होंने उन्हें यह निर्देश भी दिया कि खान-पान सुविधाएं प्रदान करने हेतु उपयोग किये जाने वाले स्थान की नियमित आधार पर साफ-सफाई और फ्यूमिगेशन को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाये.

उन्होंने संसद भवन परिसर में सुरक्षा संबंधी व्यवस्था का भी जायजा लिया और संबंधित अधिकारियों को संसद सदस्यों के लिए बाधा-रहित पहुंच सुनिश्चित करने का निर्देश दिया. बिरला ने नए संसद भवन के निर्माण का उल्लेख करते हुए सभी संबंधित एजेंसियों को प्रदूषण नियंत्रण और हरित भवनों संबंधी निर्धारित मानकों का सख्ती से अनुपालन करने और यह सुनिश्चित करने का निदेश दिया कि निर्माण-कार्य से सत्र के दौरान संसदीय कार्य के सुचारू संचालन में कोई बाधा उत्पन्न न हो.

उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि वायु और ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए कार्यस्थल पर स्मॉग टॉवर और आवश्यक उपकरण लगाये जाएं.