जैसलमेर सरहद पर चल रहा है 'ऑपरेशन अलर्ट', कड़े हुए सुरक्षा इंतजाम

 बीएसएफ के अधिकारी भी सरहद पर ही तैनात रहेंगे.

जैसलमेर सरहद पर चल रहा है 'ऑपरेशन अलर्ट', कड़े हुए सुरक्षा इंतजाम
प्रतीकात्मक तस्वीर.

मनीष रामदेव, जैसलमेर: जिले में स्वतंत्रता दिवस को लेकर बीएसएफ ने 11 अगस्त से बॉर्डर पर अलर्ट जारी किया है, जो आगामी 17 अगस्त तक जारी रहेगा. 15 अगस्त को देखते हुए सीमा पर हाई अलर्ट जारी कर ‘ऑपरेशन अलर्ट’ चलाया जा रहा है.

इसके चलते सीमा सुरक्षा बल आगामी 17 अगस्त तक सीमा पर मुस्तैद रहेगा और सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त होंगे, ताकि परिंदा भी पर नहीं मार सके.

जानकारी के अनुसार, स्वतंत्रता दिवस और मौसम और तेज आंधियों, बवंडर आदि के समय घुसपैठ की आशंका के चलते यह ऑपरेशन चलाया जा रहा है और इस दौरान गस्त बढ़ाने के साथ ही सुरक्षा नाकों की संख्या में बढ़ोतरी की जाती है हालांकि बीएसएफ पूरे साल तारबंदी पर मुस्तैद रहती है, लेकिन इन दिनों निगरानी कड़ी रहेगी.

यह भी पढ़ें- मुख्यमंत्री SMS स्टेडियम में 9.05 बजे करेंगे झंडारोहण, जानें कार्यक्रमों की लिस्ट

इस ऑपरेशन अलर्ट के दौरान सारा मैन पॉवर बॉर्डर पर रहेगा, यहां तक कि बीएसएफ के अधिकारी भी सरहद पर ही तैनात रहेंगे. कमांडेंट का हेडक्वार्टर सीमा पर रहेगा और वे अलर्ट के दौरान वहीं मौजूद रहेंगे, बीएसएफ इस दौरान भारतीय खुफिया एजेंसियों से कोऑर्डिनेशन में रहेगी. किसी भी तरह के इनपुट पर बीएसएफ सजग रहेगी और दिन व रात बीएसएफ के निगहबान तारबंदी पर पहरा देंगे.     

राजस्थान फ्रंटियर के आईजी अमित लोढ़ा ने बताया कि बीएसएफ मुख्यालय के निर्देषानुसार इन दिनों ऑपरेशन अर्लट चल रहा है. इस दौरान सभी बीएसएफ के जवान और अधिकारी सीमा पर तैनात रहते है और इस दौरान अत्याधुनिक हथियार भी बार्डर पर तैनात रहती है और इसका प्रशिक्षण किया जाता है. आईजी लोढ़ा ने बताया कि वे भी आगामी दिनों में अपने अधीनस्थ अधिकारियों के साथ भारत-पाक सीमा पर जाएंगे और अपने जवानों का मनोबल बढ़ाएंगे. साथ ही वहां के वर्तमान हालातों लेंगे.