सिरोही: नहीं रच पाई दुल्हन के हाथों में मेंहदी, शादी से पहले दूल्हे की जलाकर हत्या

सिरोही जिले के पिंडवाड़ा का रहने वाला पंकज सुथार एक ट्रैवल्स बस कंपनी में नौकरी करता था. 4 मई को पंकज सुथार की शादी होने वाली थी.

सिरोही: नहीं रच पाई दुल्हन के हाथों में मेंहदी, शादी से पहले दूल्हे की जलाकर हत्या
सिरोही जिले के पिंडवाड़ा का रहने वाला पंकज सुथार एक ट्रैवल्स बस कंपनी में नौकरी करता था.

साकेत गोयल, सिरोही: पंकज सुथार का जीवन हंसी-खुशी निकल रहा था. घर में खुशी का माहौल था. 4 मई को इस खुशी में चार चांद और लगने वाले थे क्योंकि 4 मई को पंकज सुथार का विवाह होने वाला था. 

विधि के विधान को कुछ और ही मंजूर था. 4 महीने पहले पंकज सुथार को जलाकर दर्दनाक हत्या कर दी गई. बात कर रहे हैं सिरोही जिले के पिंडवाड़ा के रहने वाले पंकज सुथार की, जिसकी दर्दनाक हत्या कर दी गई है. हत्यारे अभी तक पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं.

सिरोही जिले के पिंडवाड़ा का रहने वाला पंकज सुथार एक ट्रैवल्स बस कंपनी में नौकरी करता था. 4 मई को पंकज सुथार की शादी होने वाली थी लेकिन 21 जनवरी को पंकज सुथार घर से अपनी नौकरी पर निकला था लेकिन वापस लौट कर नहीं आया. घरवालों ने पंकज सुथार के बारे में काफी जांच-पड़ताल की लेकिन जब तक पंकज सुथार का पता लग पाया, तब तक काफी देरी हो चुकी थी. अब पंकज सुथार इस दुनिया में नहीं रहा था.

क्या कहना है परिजनों का
पंकज सुथार के परिजन बताते हैं कि 21 जनवरी को शाम को जब यह नौकरी कर सिरोही से वापस आ रहा था तो इसका फोन आया. जहां पर बस उतारती है, वहां से अपने घर वालों को लेने के लिए बुलाया. जब उसके परिजन लेने के लिए पहुंचे तो यह वहां नहीं मिला. काफी घंटों इंतजार करने के बाद परिजनों ने पंकज की छानबीन शुरू की लेकिन इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिली. इस पर पुलिस को इस बारे में सूचना भी दी गई लेकिन पंकज का कोई सुराग नहीं लग पा रहा था. इधर घरवालों की चिंताएं बढ़ती जा रही थी. हर कोई पंकज के लिए परेशान था.

pankaj suthar murder before 4 months of marriage in pindwara sirohi

जला हुआ मिला पंकज का शव
इस घटना के दो दिन बाद ही पुलिस का फोन पंकज के परिजनों के पास आया और उनको एक शव की शिनाख्त करने के लिए कहा गया. जब परिजनों ने शव की शिनाख्त की तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई क्योंकि यह कोई और कोई नहीं बल्कि पंकज था. पिंडवाड़ा के नजदीक रोहिडा थाना क्षेत्र के सिलवा फली के जंगलों में जला हुआ शव मिला. यह शव पंकज का था तथा दरिंदे हत्यारों ने पंकज सुथार को पहले अपहरण किया तथा बाद में उसको जला कर मार डाला.

पुलिस कर रही है जांच
फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है लेकिन अभी पुलिस के लिए इस मामले में कोई सुराग हाथ नहीं लगा है लेकिन पुलिस को विश्वास है कि जल्द ही इस मर्डर का राज खोल देगी.

इस घटना के बाद परिजनों में तो आक्रोश है ही नहीं बल्कि शहर वासियों में भी एक आक्रोश देखा जा रहा है. इसको लेकर परिजनों के साथ शहरवासियों ने पुलिस थाना के बाहर प्रदर्शन किया तथा आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की. इस पर पुलिस ने भी आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया है लेकिन घटना के 15 दिन गुजर चुके हैं पुलिस के हाथ अभी भी कोई सुराग नहीं लग पाया है.