पतंजलि की ‘कोरोनिल’ को आयुष मंत्रालय से मिली बिक्री की अनुमति, रघु शर्मा ने कसा तंज

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा स्पष्ट बोले कि कोरोना के इस दौर में बाबा अगर हिंदुस्तान में कोई मदद करना चाहते हैं तो देश में इस इम्यूनिटी बूस्टर को निःशुल्क कर दें. 

पतंजलि की ‘कोरोनिल’ को आयुष मंत्रालय से मिली बिक्री की अनुमति, रघु शर्मा ने कसा तंज
पतंजलि इसे इम्यूनिटी बूस्टर के तौर पर बाजार में बेच सकेगा.

जयपुर: काफी विवादों के बाद आखिकार पतंजलि की ‘कोरोनिल’ दवा को आयुष मंत्रालय से बिक्री की अनुमति मिल गई है. पतंजलि इसे इम्यूनिटी बूस्टर के तौर पर बाजार में बेच सकेगा.

इस मामले पर राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि इम्युनिटी बूस्टर की जगह जिस तरह बाबा रामदेव ने इस दवाई को कोरोना का इलाज करने वाली दवाई के तौर पर दावा किया वो कोरोना महामारी के समय देश की जनता के साथ क्रूर मजाक था. इसीलिए बाबा रामदेव को देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा स्पष्ट बोले कि कोरोना के इस दौर में बाबा अगर हिंदुस्तान में कोई मदद करना चाहते हैं तो देश में इस इम्यूनिटी बूस्टर को निःशुल्क कर दें.

उन्होंने कहा कि आर्थिक कंगाली के दौर में बाबा अगर आम आदमी की कोई मदद करना चाहते हैं और बाबा के मन मे अगर देश सेवा है तो इस इम्यूनिटी बूस्टर को बाबा निःशुल्क देवें और बाबा कोरोना के दौर में व्यापार न करें.