कोटा: कर्फ्यू हटा तो लोगों ने मनाया जश्न, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां

लॉक डाउन 4 जारी है धारा 144 लगी हुई है, लेकिन कोटा का वो इलाका जहां से सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस आए हैं.

कोटा: कर्फ्यू हटा तो लोगों ने मनाया जश्न, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां
लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग के साथ साथ धारा 144 की भी धज्जियां उड़ा डाली.

हिमांशु मित्तल, कोटा: लॉक डाउन 4 जारी है धारा 144 लगी हुई है, लेकिन कोटा का वो इलाका जहां से सबसे ज्यादा कोरोना (Coronavirus) पॉजिटिव केस आए हैं. कोटा के चंद्रघाटा इलाके से कर्फ्यू हटाया गया जैसे ही कर्फ्यू हटा अचानक ही इलाके की तस्वीर बदल गई देखते ही देखते इलाके में जश्न का माहौल हो गया. लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग के साथ साथ धारा 144 की भी धज्जियां उड़ा डाली. 

दरअसल तस्वीरें कोटा के चंद्रघाटा इलाके की हैं. जहां कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आने के बाद ये इलाका कोटा का सबसे बड़ा कोरोना हॉटस्पॉट बन गया था. जिसके बाद इलाके में कर्फ़्यू लगा दिया गया था. इस तथ्यों की अवधि लगातार बढ़ाई जा रही थी क्योंकि इस इलाके से लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों के आने का सिलसिला जारी था. बीते कुछ समय से इस इलाके से पॉजिटिव केस सामने नहीं आ रहे थे इसीलिए प्रशासन ने इस इलाके से कर्फ्यू हटाने का फैसला किया. जैसे ही कर्फ्यू हटा लोग सड़कों पर आ गए और जश्न का माहौल हो गया. 

लोग एक दूसरे के करीब आना शुरू हो गए और देखते ही देखते तस्वीरें बदल गई. लॉक डाउन 4 जारी है धारा 144 इलाके में अभी भी लगी हुई है, लेकिन इन तमाम बातों से लोगों का कोई सरोकार नहीं. लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा कर रख दी. ऐसे में अगर इस इलाके से दोबारा पॉजिटिव की जाना शुरू होते हैं तो उसकी जवाबदेही किसकी तय होगी. 

चन्द्रघटा ईलाके से लंबे समय के बाद कर्फ्यु हटा और घंटाघर के लोग इसे इस अंदाज में सेलीब्रेट करने घरों से निकलकर सड़कों पर आये कि जैसे आज ही कोटा से कोरोना खत्म ही हो गया हो. खचाखच भरी सड़क पर जुटी इस घनी भीड़ में कई चेहरों पर तो मास्क तक भी नहीं था. वहीं, भीड़ कर्फ्यु हटने की खुशी में पुलिसकर्मियों का भी फूलमालाएं पहनाकर अभिनंदन करने पर आमादा हुई जा रही थी.

कमाल की बात ये है कि कोटा में शुरुआती दौर में कोरोना फैलने का जिम्मेवार जिन सीआई साहब की गलतियों को माना जा रहा था. आज वहीं कर्फ्यु हटने जैसी मामूली बात पर भीड़ के बीच मालाएं पहनकर अपने जयकारे लगवा रहे थे.

 

ये भी पढ़ें: CM गहलोत ने किया सोनिया गांधी के 'स्पीक अप अभियान' का समर्थन, कही ये बातें