जयपुर: हॉटस्पॉट वाले इलाकों से लोग चोरी-छिपे भाग रहे दूसरे स्थानों पर, कॉलोनियों में हड़कंप

कोरोना संक्रमण के हॉटस्पॉट या नजदीकी क्षेत्रों से लोग चोरी-छिपे दूसरे स्थानों पर पहुंच रहे हैं.

जयपुर: हॉटस्पॉट वाले इलाकों से लोग चोरी-छिपे भाग रहे दूसरे स्थानों पर, कॉलोनियों में हड़कंप
सूचना पर पहुंची मेडिकल टीम संदिग्ध परिवार को SMS हॉस्पिटल ले गई.

विष्णु शर्मा, जयपुर: कोरोना संक्रमण के हॉटस्पॉट या नजदीकी क्षेत्रों से लोग चोरी-छिपे दूसरे स्थानों पर पहुंच रहे हैं. इससे वहां रहने वाले लोगों में घबराहट और आशंका का माहौल है. सोमवार सुबह ईदगाह से एक परिवार सांगानेर प्रताप नगर सेक्टर 11 में पहुंच गया, जिससे मोहल्ले में हड़कंप मच गया. हालांकि, सूचना पर पहुंची मेडिकल टीम संदिग्ध परिवार को SMS हॉस्पिटल ले गई. शहर में इस तरह की आधा दर्जन से ज्यादा घटनाएं सामने आ चुकी हैं.

कोरोना महामारी के कारण प्रदेश में लॉक डाउन चल रहा है. राजधानी जयपुर का रामगंज कोरोना संक्रमण का हॉटस्पॉट बना हुआ है. प्रशासन ने संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए चार दिवारी और आसपास के दायरे में कर्फ्यू लगा रखा है. इसके बावजूद चारदीवारी व अन्य क्षेत्रों से लोग चोरी-छिपे बाहरी कॉलोनियों में पहुंच रहे हैं. इन लोगों के जाने से बाहरी कॉलोनियों में हड़कंप मचा हुआ है. 

ईदगाह से एक परिवार अपने घर प्रताप नगर सेक्टर 11 की जोन 4 में पहुंच गया. इसकी जानकारी मिलते ही लोगों में घबराहट फैल गई. सूचना मिलने प्रताप नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने संदिग्ध परिवार को घर से बाहर नई लिखने के लिए पाबंद किया. कुछ देर बाद मेडिकल की एक टीम एंबुलेंस के साथ वहां पहुंची. मेडिकल टीम पति पत्नी और दो बच्चों को लेकर एसएमएस रवाना हो गई. हालांकि, जांच के बाद ही पता चल गया जाएगा की संदिग्ध परिवार संक्रमित है या नहीं.

इधर 10 लोग चोरी छिपे कर्फ़्यू क्षेत्र से भागकर कानोता पहुंच गए. कानोता के महावीर नगर में एक मकान किराए पर लिया. जैसे ही लोगों को मिली जानकारी, तो इलाके में हड़कंप गया. सूचना पर कानोता थाना पुलिस पहुंची और सभी 10 जनों को पकड़ कर थाने ले गई और मेडिकल विभाग को दी सूचना दी. जयपुर में चार दिन में लोगों के प्रभावित इलाके से भागकर दूसरी जगह जाने की यह पांचवीं घटना है.

ये भी पढ़ें: तापमान में हुआ बदलाव, वैज्ञानिक बोले- गर्मी से कम होगा कोरोना का प्रकोप