close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान यूनिवर्सिटी में राजनीतिक हलचल बढ़ी, छात्र नेताओं ने प्रचार में झोंकी ताकत

जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय में भी चुनावी सरगर्मियां तेज हो गई हैं. छात्रसंघ अध्यक्ष सहित पदों के लिए होने वाले चुनाव को लेकर छात्र नेताओं ने चुनाव प्रचार में ताकत झोंक दी है.

राजस्थान यूनिवर्सिटी में राजनीतिक हलचल बढ़ी, छात्र नेताओं ने प्रचार में झोंकी ताकत
प्रत्याशियों की घोषणा के साथ ही उम्मीदवार अब अपने प्रचार में जुट गए है.

डूंगरपुर: राजस्थान के कॉलेजों में छात्रसंघ चुनाव को लेकर कैंपस पॉलिटिक्स तेज हो गई है. पिछले तीन सालों से जिले के सबसे बड़े एसबीपी कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव का विजेता रहा छात्र संगठन बीपीवीएम इस बार भी पुरे जोश के साथ मैदान में ताल ठोक चुका है. एसबीपी कॉलेज में सुबह से ही प्रत्याशी घोषणा को लेकर छात्र-छात्राओं की भीड़ जमा होनी शुरू हो गई थी और नारेबाजी का दौर दिन चढ़ने के साथ ही तेज होता गया. बढ़ती भीड़ के चलते एहतियातन पुलिस बल तैनात था. 

बता दें कि बीपीवीएम ने एसबीपी कॉलेज के अध्यक्ष प्रत्याशी के रूप में कमलेश घाटिया और वीकेबी में अध्यक्ष प्रत्याशी शीला कसोटा को उतारा है. वहीं एआईएसएफ ने एसबीपी कॉलेज के लिए अध्यक्ष और महासचिव पद के लिए क्रमश: रतनलाल मनात और गोपालकृष्ण मीणा के नाम पर मुहर लगी है. शेष प्रत्याशियों की घोषणा आगामी दो दिन में पूरी होने की बात छात्र नेता कर रहे है.  

इधर प्रत्याशियों की घोषणा के साथ ही उम्मीदवार अब अपने प्रचार में जुट गए है. प्रत्याशियों का कहना है की वे एसबीपी कॉलेज व विकेबी गर्ल्स कॉलेज में विद्यार्थियों के हितो से जुड़े मुद्दों को लेकर मैदान में उतरे है इस मौके पर सभी ने अपनी-अपनी जीत के दावे किये. 

वहीं जोधपुर के जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय में भी चुनावी सरगर्मियां तेज हो गई हैं. छात्रसंघ अध्यक्ष सहित पदों के लिए होने वाले चुनाव को लेकर छात्र नेताओं ने चुनाव प्रचार में ताकत झोंक दी है. सुबह से ही छात्र नेता अपने पक्ष में मतदान करने की मांग को लेकर ना केवल कॉलेज कैंपस में छात्रों से मुलाकात कर उनसे मत व समर्थन की मांग कर रहे हैं, बल्कि छात्र मतदाताओं को रिझाने के लिए उनकी समस्याओं के समाधान करने का भी पूरा भरोसा दे रहे हैं. 

जोधपुर संभाग के सबसे बड़े विश्वविद्यालय जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव को लेकर अध्यक्ष पद पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने त्रिवेंद्र पाल सिंह राठौड़ को अपना प्रत्याशी बनाया है. वहीं एनएसयूआई ने हनुमान तरड़ को अध्यक्ष पद का प्रत्याशी घोषित किया है. एबीवीपी से अपनी दावेदारी जता रहे रविंद्र पाल सिंह को टिकट नहीं मिलने पर नाराज रविंद्र पाल ने बतौर निर्दलीय मैदान में ताल ठोक दी है. ऐसे में इस बार जेएनवीयू में होने वाले चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल रहा है.