SHO सुसाइड केस: सड़कों पर उतरी भीड़, कृष्णा पूनिया के खिलाफ जमकर हुई नारेबाजी

जिला कलेक्टर संदेश नायक एवं एसपी तेजस्विनी गौतम तथा पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं. 

SHO सुसाइड केस: सड़कों पर उतरी भीड़, कृष्णा पूनिया के खिलाफ जमकर हुई नारेबाजी
भीड़ ने विधायक कृष्णा पूनिया के खिलाफ तथा कांग्रेस सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

चूरू: जिले के राजगढ़ थानाधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई की ओर से आत्महत्या के मामले के बाद शहर की सड़कों पर भीड़ उमड़ पड़ी. पुलिस थाने के सामने लोगों की भीड़ ने विधायक कृष्णा पूनिया के खिलाफ तथा कांग्रेस सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया है.

जिला कलेक्टर संदेश नायक एवं एसपी तेजस्विनी गौतम तथा पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं. लोगों ने थाना अधिकारी के पक्ष में जमकर नारेबाजी की तथा विधायक के खिलाफ रोष जताया. आक्रोशित लोगों ने रोष  जताते हुए कहा कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई, तो आंदोलन के लिए मजबूर होंगे. 

इसके अलावा बीजेपी नेता रामसिंह कस्वां ने कहा कि निष्पक्ष और ईमानदारी व्यक्ति को न्याय तभी मिलेगा, जब दोषियों को सजा मिलेगी. उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन थानाधिकारी की आत्महत्या के मामले को निष्पक्षता से जांच करें अन्यथा आंदोलन करने को मजबूर होंगे. वहीं, बसपा नेता पूर्व विधायक मनोज न्यांगली ने कहा कि जब तक थानाधिकारी की आत्महत्या मामले में निष्पक्ष और न्याय संगत कार्रवाई नहीं होगी तो अनिश्चितकालीन धरना शुरू करने को मजबूर होंगे. 

इसके अलावा देहात बीजेपी मंडल अध्यक्ष सतवीर पूनिया, नगर पालिका अध्यक्ष जगदीश बैरासरिया आदि ने भी निष्पक्ष जांच की मांग की है. वहीं, पुलिस थाने के सामने हजारों लोगों की भीड़ लगी हुई है तथा लोग विधायक कृष्णा पूनिया के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. घटना की सूचना मिलते ही शहर का बाजार बंद हो गया तथा व्यापारी दुकानों को बंद कर पुलिस थाने के सामने पहुंचने लगे. इसके अलावा मुख्य स्थल पर जिला कलेक्टर संदेश नायक एसपी तेजस्विनी गौतम एसडीएम इंदर सिंह आदि जांच में जुटे हैं.

इस मामले को लेकर प्रतिपक्ष के उपनेता राजेंद्र राठौड़ ने भी जयपुर से एक बयान जारी कर दिया है और चूरू के लिए रवाना हो गए हैं. उन्होंने पुलिस के राजनीतिकरण और ईमानदार एवं दबंग अफसर के द्वारा आत्महत्या करने की मामले की न्यायिक जांच की मांग भी कर ली है.