बारां: धड़ल्ले से हो रहा अवैध खनन, ग्रामीणों ने की कार्रवाई की मांग

पार्वती नदी के आसपास के हिनोतिया, पाठेडा, नारेडा, फतेहपुर सहित आधा दर्जन से अधिक गांवों के लोग खनन माफियाओं के कारण दहशत में है. 

बारां: धड़ल्ले से हो रहा अवैध खनन, ग्रामीणों ने की कार्रवाई की मांग
ग्रामीणों के विरोध करने पर ट्रैक्टर-ट्रॉली चालक लोगों के साथ मारपीट करने पर उतारू हो जाते हैं.

राम मेहता, बारां: जिले में पार्वती नदी से अवैध बजरी और पत्थर खनन का खेल लगातार जारी है. पत्थर के खनन माफियाओं के कारण लोग दहशत में हैं. साथ ही प्रशासन से माफियाओं से राहत दिलाने के लिए चक्कर काट रहे हैं. 

मंत्री प्रमोद जैन भाया के गृह जिले में नदियों में बेखौफ अवैध खनन हो रहा है और खनन माफिया भी बेखौफ हैं. पार्वती नदी के आसपास के हिनोतिया, पाठेडा, नारेडा, फतेहपुर सहित आधा दर्जन से अधिक गांवों के लोग खनन माफियाओं के कारण दहशत में है. 

गांव के अंदर से अवैध बजरी पत्थरों से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली गांवों के अंदर से फर्राटे भरते हुए रात-दिन सैकड़ों की सख्यां में गुजरते हैं. ऐसें में लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो रहा है, वहीं बच्चे भी दहशत में स्कूल जाने से डरे रहते हैं.

ग्रामीणों के विरोध करने पर ट्रैक्टर-ट्रॉली चालक लोगों के साथ मारपीट करने पर उतारू हो जाते हैं. ऐसे में गांवों के लोग डर के साये में रहते हैं. फर्राटे भरते ट्रैक्टर-ट्रॉली के कारण कई बार हादसे हो चुके हैं. ग्रामीण गांव के अंदर से गुजरने वाले अवैध खनन से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली को बंद करने की मांग कर चुके हैं लेकिन जिम्मेदार खनन विभाग और पुलिस ओर प्रशासन भी कोई ध्यान नहीं दे रहा है.