बीकानेर में बारिश ने बढ़ाई सर्दी, जनजीवन हुआ प्रभावित

 बारिश के साथ पारे में गिरावट के चलते सर्दी अचानक बढ़ गई, जिससे रेगिस्तान के लोगों को ख़ासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

बीकानेर में बारिश ने बढ़ाई सर्दी, जनजीवन हुआ प्रभावित
बीकानेर में बारिश ने बढ़ाई सर्दी

रौनक व्यास/बीकानेर: रेगिस्तान में सर्दी का सितम कम होने का नाम नहीं ले रही है. जहां पहाड़ी इलाकों ने लगातार हो रही बर्फबारी के साथ रेगिस्तानी इलाके में हुई बारिश ने सर्दी के सितम को और अधिक बढ़ा दिया है, वहीं, सुबह से राजस्थान में अचानक हुए मौसम परिवर्तन ने जन जीवन को पूरी तरह बिगाड़ दिया है.

वहीं, बारिश के साथ पारे में गिरावट के चलते सर्दी अचानक बढ़ गई, जिससे रेगिस्तान के लोगों को ख़ासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. खासतौर पर इस साल की शुरूआत के साथ सर्दी अपने कई रिकोर्ड तोड़ती नज़र आ रही है. पारे में गिरावट के साथ इस साल राजस्थान में सर्दी के नए रिकोर्ड बनाए हैं.

बीकानेर शहर ओर आस पास के इलाके में सुबह से हुई बारिश ने लोगों को परेशानी में डाल दिया है. बारिश ने इलाक़े में सर्दी के सितम को न केवल बढ़ा दिया है बल्कि बीमारियां भी सामने लाकर खड़ी कर दी हैं. हॉस्पिटल में जहां एक तरफ मौसमी बीमारियों के चलते मरीज़ों का ताता लगा हुआ है, वहीं सड़क पर लोग अलाव जलाकर सर्दी से बचने की कोशिश करते नज़र आ रहे हैं.

बारिश के चलते मौसम में परिवर्तन देखने की मिल रहा है. ग्रामीण से लेकर शहर सभी इलाकों में लोगों के सामने मुश्किलें खड़ी कर दी हैं, लेकिन रबी की फसलों के लिए यह बारिश वरदान साबित हो सकती है.

मौसम विभाग की मानें तो जनवरी का यह महीना कुछ ऐसी ही सर्दी और मौसम के परिवर्तन भरा रह सकता है. वहीं, आम जनता की मौसम से बढ़ी मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है. 

बता दें कि, अचानक से मौसम में आए बदलाव और पहाड़ों में बर्फवारी से राजस्थान समेत उत्तर भारत एक बार फिर से शीतलहर और ठंड की चपेट में आ गया है. प्रदेश में घने कोहरे और ठंड से जनजीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो गया है. एक और जहां ठंड से बचने के लिए लोग अलाव का सहारा ले रहे हैं, वहीं कोहरे का कहर सड़कों पर हादसे के रूप में दिख रहा है.

राजस्थान में 1 दिन की हल्की राहत के बाद कड़कड़ाती ठंड और शीतलहर ने एक बार फिर से लोगों को कंपकपा दिया है. घने कोहरे और सर्दी की वजह से लोगों घरों में दुबकने को मजबूर हैं. आलम ये हैं, दिन में बारिश और मौसम के बदले तेवर ने लोगों का जीन मुश्किल कर दिया है.