close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: 4 भाइयों ने पेश की मिसाल, कराई दूसरी जाति की दो बहनों की शादी

धनला गांव के स्वर्गीय प्रेमसिंह अपने जीवन मे सामाजिक भेदभाव को खत्म करने के लिए हर सम्भव प्रयास किया करते थे.

राजस्थान: 4 भाइयों ने पेश की मिसाल, कराई दूसरी जाति की दो बहनों की शादी
प्रतीकात्मक तस्वीर

पाली/ सुभाष रोहिसवाल:देश मे जो माहौल चल रहा हैंस उससे सभी विगत हैं. लगातार जातिवाद के नाम पर जनता को आपस मे लड़ाया जा रहा है. ऐसे में मारवाड़ उपखण्ड मुख्यालय से 30 किलोमीटर दूर धनला गांव में रहने वाले चार राजपूत भाइयों ने अलग ही मिसाल पेश की है. जातिवाद की गंदगी से दूर इन चार भाइयों ने अपने पिता की इच्छा पर गांव में ही रहने वाले मेघवाल परिवार की दो बालिकाओं को उनके पिता बनकर शादी कराई और सारी रस्म भी निभाई. 

दरअसल, धनला गांव के स्वर्गीय प्रेमसिंह अपने जीवन मे सामाजिक भेदभाव को खत्म करने के लिए हर सम्भव प्रयास किया करते थे. उनका मानना था कि सामाजिक रूप से कमजोर जातियों को भी उतना ही अधिकार हैं, जितना स्वर्ण जातियों को. अपने अंतिम समय मे उन्होंने इसी विचारधारा को आगे बढ़ाने के लिए अपने चार पुत्रों कुशालसिंह, देवेन्द्रसिंह, खुशवीरसिंह व तेजपालसिंह को जिम्मेदारी सौंपी. पिता के इस पुनीत कार्य को आगे बढ़ने की ठानकर इन भाइयों ने यह पहल की ओर अपने पिता के सपने को पूरा किया. 

इन चारों भाइयों की पहल को पूरे धनला गांव ओर आस-पास के गांवों के लोगों ने सराहा और इन दो बेटियों की शादी एक यादगार पल बने इसके लिए पूरे गांव को सजाया गया. सभी ग्रामीणों ने बेटियों की शादी में बढ़चढ़ कर भाग लिया. पूरे विवाह को संम्पन्न करवाने की जिम्मेदारी अलग अलग लोगों ने ली. सबसे बेहतर बात यह रही कि इन दोनों युवतियों की बारात में आए लोगों ने भी इस पहल की जमकर तारीफ की.