close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: एसीबी टीम की कार्रवाई, कांस्टेबल को 10 हजार की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

बारां के शाहबाद गेट निवासी मोहनलाल बैरवा के परिवाद पर बारां एसीबी की टीम ने शुक्रवार को कार्यवाही करते हुए कोटा ग्रामीण के आयाना थाने में तैनात कांस्टेबल रमेश को 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है. 

राजस्थान: एसीबी टीम की कार्रवाई, कांस्टेबल को 10 हजार की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार
प्रतीकात्मक तस्वीर

राम मेहता, बारां: जिले के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने शुक्रवार को बड़ी कार्यवाही करते हुए कोटा ग्रामीण के अयाना थाने में तैनात कांस्टेबल रमेश मीणा को 10 हजार राशि की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. मामले में थानाधिकारी विनोद और हैड कांस्टेबल उमर मोहम्मद की भूमिका भी संदिग्ध बताई जा रही है.

आपको बता दें, बारां के शाहबाद गेट निवासी मोहनलाल बैरवा के परिवाद पर बारां एसीबी की टीम ने शुक्रवार को कार्यवाही करते हुए कोटा ग्रामीण के आयाना थाने में तैनात कांस्टेबल रमेश को 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है. यह राशि थाने में ही तैनात हैड कांस्टेबल उमर के कहने पर कांस्टेबल रमेश द्वारा ली गयी. अयाना थाने में परिवादी के कुछ परिजनों पर धारा 498 में मुकदमा चल रहा था, जिसमें से कुछ नाम हटाने के लिए अयाना थाने में ही तैनात हेड कांस्टेबल उमर मोहम्मद ने परिवादी से 70 हजार रुपयों की मांग की थी. 

जिस का सौदा 20 हजार रूपए में तय हुआ. शुक्रवार को जब परिवादी रिश्वत की राशि लेकर थाने पहुंचा तो हैड कांस्टेबल उमर मोहम्मद ने छुट्टी पर होने के कारण रिश्वत की राशि थाने में ही तैनात कांस्टेबल रमेश को देने के लिए कहा. सत्यापन के बाद परिवादी द्वारा कांस्टेबल रमेश को 10 हजार की राशि देते हुए एसीबी की टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया.

बारां एसीबी के पुलिस निरिक्षक ज्ञानचंद मीणा का कहना है कि संपूर्ण कार्यवाही में अयाना थाने के एसएचओ विनोद कुमार एवं हेड कांस्टेबल उमर मोहम्मद की भूमिका भी संदिग्ध है.