राजस्थान विधानसभा चुनाव: राज्य में 7 दिसंबर को मतदान, 11 दिसंबर को होगी मतगणना

आयोग के घोषणा के मुताबिक प्रदेश में 7 दिसंबर को एक ही चरण में  मतदान होंगे.

राजस्थान विधानसभा चुनाव: राज्य में 7 दिसंबर को मतदान, 11 दिसंबर को होगी मतगणना
चुनावी तारीख के ऐलान साथ ही राजस्थान में आचार संहिता भी लागू हो गई है.

जयपुर: चुनाव आयोग ने राजस्थान के विधानसभा चुनाव की तारीख की घोषणा कर दी है. जिसके मुताबिक प्रदेश में 7 दिसंबर को एक ही चरण में मतदान होंगे. वहीं मतगणना 11 दिसंबर को होगी जिसके बाद चुनावों के परिणामों की घोषणा होगी. चुनावी तारीख के ऐलान साथ ही राजस्थान में आचार संहिता भी लागू हो गई है. बता दें कि वसुंधरा राजे प्रदेश की पहली महिला मुख्यमंत्री थीं. यह दूसरी बार है जब वह राजस्थान की मुख्यमंत्री के पद पर आसीन हुई थीं. इससे पहले प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी जिसमें अशोक गहलोत मुख्यमंत्री के पद पर थे. 

चुनाव आयोग के मुताबिक पूरी चुनाव प्रक्रिया की वीडियोग्राफी होगी. साथ ही इस बार चुनावों में मतदान के लिए वीवीपैट मशीनों का इस्तेमाल होगा. जो कि वोटिंग के लिए सबसे नई मशीन है. वहीं विधानसभा चुनावों में उम्मीदवार अधिकतम 28 लाख रूपए खर्च कर सकेंगे.

 राजस्थान में विधानसभा चुनाव से पहले चुनाव आयोग ने मतदाताओं को एक बड़ा हथियार दिया है. अगर कोई राजनीतिक दल या उम्मीदवार चुनावों के दौरान चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करता है, तो वोटर उसकी सीधे शिकायत कर सकता है. चुनाव आयोग के मुताबिक C-Vigil (सी-विजिल) मोबाइल एप्लीकेशन के जरिए मतदाता सीधे चुनाव आयोग को शिकायत कर सकता है. इसमें कोई भी व्यक्ति चुनाव की गड़बडिय़ों की शिकायत आयोग को फोटो या वीडियो डालकर कर सकेंगे

यह अनुमति निर्वाचन घोषणा की तिथि से प्रभावी होगी और मतदान के एक दिन बाद तक बनी रहेगी, कोई भी व्यक्ति इस ऐप के जरिए घटना की जानकारी दे सकेगा, सी विजिल ऐप चुनावी गड़बड़ियों पर तत्काल लगाम लगाने में सहायक होगा, आयोग का कहना है कि एप से फोटो या वीडियो भेजने के बाद शिकायकर्ता को उसकी शिकायत पर 100 मिनट के भीतर जानकारी भी दी जाएगी, जैसे ही शिकायतकर्ता की शिकायत संबंधित रिटर्निंग अधिकारी के मेल पर आएगी, उप निर्वाचन अधिकारी उसे वैरिफाई करके कुछ ही मिनटों में एफआईआर दर्ज करवा देगा.

बता दें कि चुनाव आयोग के अनुसार प्रदेश में पांच साल में 16.58 फीसदी मतदाता बढ़े हैं. मतदाता सूचियों के अंतिम प्रकाशन के अनुसार राज्य में कुल 4,74,79,402 मतदाता हैं. इनमें 2,47,60,755 पुरुष और 2,27,18,647 महिलाएं हैं. आयोग के मुताबिक राज्य में 1,13,642 सर्विस मतदाता भी हैं. 

आयोग ने बताया कि आवेदनों की पड़ताल और भौतिक सत्यापन के बाद कुल 7,91,320 मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटाए गए हैं. उन्होंने बताया कि वर्ष 2013 में विधानसभा चुनाव के दौरान प्रदेश में कुल मतदाताओं की संख्या 4,07,26,144 थी, वहीं आगामी विधानसभा चुनाव के लिए मतदाताओं सूचियों के अंतिम प्रकाशन के बाद इस संख्या में 67.53 लाख से अधिक की वृद्धि दर्ज की गई है.