close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: सदन में लघु सिंचाई, भूमि सरंक्षण पर बहस के बीच बीडी कल्ला ने दिया जवाब, कहा...

सदन में बहस के दौरान भू-जल मंत्री ने कहा कि पिछली सरकार अडानी पॉवर लिमिटेड की हिस्सा राशि लेने में असफल रही थी. जिससे परवन वृहद बहुउद्देशीय परियोजना के काम अटक गया था.

राजस्थान: सदन में लघु सिंचाई, भूमि सरंक्षण पर बहस के बीच बीडी कल्ला ने दिया जवाब, कहा...
भू-जल मंत्री ने कहा कि पिछली सरकार अडानी पॉवर लिमिटेड की हिस्सा राशि लेने में असफल रही थी. (फाइल फोटो)

जयपुर: 26 जुलाई (शुक्रवार) को विधानसभा में लघु सिंचाई, भूमि संरक्षण और सिंचाई की अनुदान मांगों पर बहस हुई. इस दौरान बहस का जवाब देते हुए भूजल मंत्री बीड़ी कल्ला ने कहा कि राज्य सरकार अडानी पॉवर लिमिटेड के अटके हिस्से (राशि) को लेकर प्रदेश की महत्वकांक्षी परवन वृहद बहुउद्देशीय परियोजना का काम पूरा करेंगे. बहस के बाद सदन ने लघु सिंचाई एवं भूमि संरक्षण की 1 अरब, 18 करोड़ 02 लाख 97 हजार रुपये और सिंचाई की 38 अरब, 50 करोड़ 75 लाख 07 हजार रुपये की अनुदान मांगें ध्वनिमत से पारित किया.

सदन में बहस के दौरान भू-जल मंत्री ने कहा कि पिछली सरकार अडानी पॉवर लिमिटेड की हिस्सा राशि लेने में असफल रही थी. जिससे परवन वृहद बहुउद्देशीय परियोजना के काम अटक गया था. उन्होंने कहा कि सरकार अडानी पॉवर लिमिटेड की हिस्सा राशि 964 करोड़ 53 लाख रुपए जल्द हासिल करेगी और परियोजना को पूरा कर जनता को लाभान्वित करेगी.

भूजल मंत्री कल्ला ने कहा कि राजस्थान में दो तिहाई हिस्सा मरूस्थल होने और औसत वर्षा अत्यधिक से कम होने के चलते एक एक बूंद पानी बचाना और उसका सही तरीके से इस्तेमाल किया जाना बेहद जरूरी है.

इन्दिरा गांधी नहर परियोजना पर बोतले हुए मंत्री बीडी कल्ला ने कहा कि द्वितीय चरण में नाबार्ड के वित्त पोषण से 179 करोड़ रुपये का व्यय किया जाएगा. इसके तहत शहीद बीरबल शाखा प्रणाली में 368 किमी लम्बाई के कार्यों से जैसलमेर तहसील के 25 हजार किसानों को फायदा होगा.