close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: बीजेपी ने जारी की तीसरी लिस्ट, कांग्रेस के बागी नेता को दिया टिकट

8 उम्मीदवारों की लिस्ट में बीजेपी द्वारा करणपुर से सुरेंद्रपाल सिंह टीटी, तिजारा से संदीप दायमा, बांसूर से महेंद्र याव, निवाई से रामसहाय वर्मा, बांदीकुई से रामकिशोर सैनी के नाम शामिल है. 

राजस्थान: बीजेपी ने जारी की तीसरी लिस्ट, कांग्रेस के बागी नेता को दिया टिकट
फाइल फोटो

जयपुर: राजस्थान विधानसभा की सीटों पर 7 दिसंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी की तीसरी लिस्ट भी जारी हो गई है. तीसरी लिस्ट में बीजेपी ने 8 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान क‍िया.

बता दें कि राजस्थान की 200 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारों के चयन के लिए गुरुवार और शुक्रवार को बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी और वसुंधरा राजे समेत कई मंत्रियों की बैठक हुई थी. 

8 उम्मीदवारों की लिस्ट में बीजेपी द्वारा करणपुर से सुरेंद्रपाल सिंह टीटी, तिजारा से संदीप दायमा, बांसूर से महेंद्र याव, निवाई से रामसहाय वर्मा, बांदीकुई से रामकिशोर सैनी के नाम शामिल हैंं. आपको बता दें, रामकिशोर सैनी ने शुक्रवार को ही कांग्रेस छोड़ बीजेपी की सदस्यता ली है और उन्हें एक बार फिर बांदीकुई से ही टिकट दिया है. गौरतलब है कि रामकिशोर द्वारा सबसे पहली बार भी बीजेपी की ओर से ही बांदीकुई से ही चुनाव लड़ा गया था. 

हालांकि, बीजेपी की ओर जारी तीसरी सूची में भी किसी भी मुस्लिम उम्मीदवार का नाम शामिल नहीं है. वहीं तीसरी सूची के साथ ही बीजेपी द्वारा कुल 170 उम्मीदवारों की घोषणा की जा चुकी है और अब भी 30 उम्मीदवार बचे हैं. साथ ही आपको बता दें कि राजस्थान चुनावों के लिए नामांकन की आखिरी तारीख 19 नवंबर है. ऐसे में माना जा रहा है कि बीजेपी द्वारा जल्द ही अन्य 30 उम्मीदवारों की घोषणा कर दी जाएगी. 

वहीं, विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने अब तक 152 उम्मीदवारों की घोषणा की है. जिसमें से 29 एससी, 24 एसटी, ब्राह्मण और वैश्यों को कुल 20, राजपूत को 13, जाट को 23, मुस्लिमों को 9, महिलाओं को 20 और 46 नए चेहरों को जगह दी गई है. इसके अलावा सूची में 15 वंशवाद प्रत्याशियों को भी जगह दी गई है, जिसके बाद यह उम्मीद की जा रही थी कि बीजेपी अपनी अगली सूची में कुछ मुस्लिम चेहरों को जगह देगी, लेकिन अब तीसरी लिस्ट में भी मुस्लिम समुदाय का कोई चेहरा शामिल नहीं किया गया है.