खत्म हुआ Ladu Lal Pitliya का सियासी ड्रामा, घर से निकल पाए तो मांगेंगे BJP के लिए वोट

राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच राजनीति का तापमान लगातार बढ़ते जा रहा है. आज तापमान नापने वालों की नजर बीजेपी प्रदेशअध्यक्ष सतीश पूनिया के घर पर थी. 

खत्म हुआ Ladu Lal Pitliya का सियासी ड्रामा, घर से निकल पाए तो मांगेंगे BJP के लिए वोट
बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष को दी पूरे मामले पर सफाई.

Jaipur : राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच राजनीति का तापमान लगातार बढ़ते जा रहा है. आज तापमान नापने वालों की नजर बीजेपी प्रदेशअध्यक्ष सतीश पूनिया के घर पर थी. सहाड़ा से नामांकन वापिस लेने वाले लादू लाल पितलिया (Ladu lal Pitliya) अपनी सफाई देने पूनिया के जयपुर स्थित आवास पर पहुंचे तो मिठाई खाने के बाद पितलिया ने मीठी-मीठी बातें भी की. बीजेपी और सजे नेताओं में आस्था जताई तो उपचुनाव (Rajasthan Bypolls) में बीजेपी के पक्ष में प्रचार करने का संकल्प भी जताया, लेकिन पितलिया की तरफ से प्रचार शुरू होने के पहले ही भीलवाड़ा में पितलिया के घर पर चिकित्सा विभाग ने एक नोटिस चस्पा करते हुए उन्हें 15 दिन क्वारंटाइन रहने को कह दिया है.

यह भी पढ़ें- क्या Rajasthan विधानसभा चुनाव में काम करेगा 'सहानुभूति फैक्टर', जानें किसका पलड़ा भारी

माना जाता है कि राजनीति में जिसका दांव भारी होता है कई बार फैसले भी उसी के पक्ष में होते हैं, लेकिन मामला चुनाव (Rajasthan By Election 2021) का हो तो फैसला करने वाली जनता ही निर्णायक होती है. प्रदेश में हो रहे तीन विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव में भी रोज़ाना रोचक नज़ारे दिख रहे हैं. सबसे ज्यादा उठापटक भीलवाड़ा ज़िले की सहाड़ा सीट पर हो रही है. सबसे पहले तो सहाड़ा सीट पर बीजेपी का प्रत्याशी घोषित होने के बाद पिछली बार निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़े लादूलाल पितलिया की नाराज़गी सामने आई, फिर पितलिया ने नामांकन भी भर दिया. इसके बाद बीजेपी के नेता पितलिया की नाम वापसी कराने के लिए सक्रिय हुए और उनका नामांकन वापस भी हो गया,  लेकिन उसके बाद से ही लगातार हलचल हो रही है.

पितलिया के समर्थकों ने नोटा पर वोट देने का आह्वान किया तो बीजेपी (Rajasthan BJP) के कैम्प में हलचल हुई और पार्टी नेताओं ने पितलिया को जयपुर बुलवा लिया. बीजेपी नेता अजय धांधिया और सहाड़ा-भीलवाड़ा के स्थानीय नेताओँ के साथ लादूलाल पितलिया जयपुर पहुंचे. अपने परिवार के सदस्यों के साथ बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया के घर पहुंचे पितलिया ने पूरे घटनाक्रम पर सफ़ाई दी  और साथ ही पार्टी के लिए उप चुनाव में प्रचार करने की बात भी कही. इसके साथ ही उन्होंने कथित पत्र में अपनी हैण्डराइटिंग नहीं होने की बात भी कही.

इस पूरी मुलाकात के बाद बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया (Satish Poonia) ने कहा कि पितलिया पार्टी के नेता थे और अभी भी हैं. पूनिया ने कहा कि टिकिट के लिए उनके नाम पर गम्भीरता से विचार हुआ था, लेकिन किसी कारण से उन्हें टिकिट नहीं मिल सका. बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि टिकिट नहीं मिलने के चलते उनकी नाराजगी थी, लेकिन पार्टी के प्रत्याशी के समर्थन में नाम वापस लेकर उन्होंने बीजेपी नेतृत्व और मोदी सरकार में आस्था जताई है. पूनिया ने कहा कि पितलिया की नाम वापसी के बाद सरकार और सत्ताधाारी पार्टी के स्तर पर काफी दुष्प्रचार किया गया. पूनिया ने कहा कि जिस चिठ्ठी की बात हो रही है. वह सीएमओ से जारी हुआ और पितलिया कहते हैं कि इस कथित पत्र से उनका कोई वास्ता नहीं है.

इधर सहाड़ा के चुनाव में एक ऑडियो भी वायरल हो रहा है. इस ऑडियो में कथित तौर पर बीजेपी नेता जोगेश्वर गर्ग विश्व हिन्दू परिषद की भीलवाड़ा इकाई के झंवर से कह रहे हैं कि अगर पितलिया ने नाम वापिस नहीं लिया तो भीलवाड़ा से बैंगलोर तक रगड़ कर रख देंगे. कथित ऑडियो के सवाल पर पूनिया ने कहा कि उन्होंने ऑडियो अभी सुना नहीं है. इसके साथ ही पूनिया ने कहा कि कांग्रेस पार्टी (Rajasthan Congress) के लोग पितलिया के जिन ठिकानों पर एजेन्सियों की कार्रवाई का दुष्प्रचार कर रहे हैं. उसके सबूत किसी के पास नहीं है. फिर किस आधार पर इस तरह की बात कही जा रही है.

पितलिया की नाम वापसी के बाद पूनिया बीजेपी की जीत के लिए ज्यादा आश्वस्त दिख रहे हैं. उनका कहना है कि पितलिया पार्टी के लिए प्रचार भी करेंगे और प्रत्याशी के पक्ष में वोट भी डलवाएंगे. लादूलाल पितलिया भी पूनिया की हां में हां तो मिला रहे हैं, लेकिन प्रचार का काम जयपुर में नहीं. बल्कि सहाड़ा में ज्यादा है. ऐसे में जयपुर में उनकी मौजूदगी दिखाती है कि पितलिया को अभी भी अपनी निष्ठाओं पर सफाई देनी पड़ रही है. सहाड़ा की बजाय जयपुर में पितलिया की मौजूदगी का सवाल जब खुद उनसे पूछा जाता है तो वे भी खामोश हो जाते हैं. इसके साथ ही अगली बार टिकिट के आश्वासन पर भी पितलिया मौन हैं.

यह भी पढ़ें- Rajasthan में महंगी बिजली और किसानों की सब्सिडी को लेकर BJP ने बोला सरकार पर हमला!