close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: पहलू खान मामले में कोर्ट ने स्वीकार की पुलिस की अर्जी, दोबारा होगी जांच

अलवर पुलिस की ओर से शुक्रवार को कोर्ट में पांच बिंदुओं ओर दुबारा जांच करने का प्रार्थना पत्र पेश किया था जिसको कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है. 

राजस्थान: पहलू खान मामले में कोर्ट ने स्वीकार की पुलिस की अर्जी, दोबारा होगी जांच
मामले की जांच के संबंध में पहलू खान के बेटे ने पुलिस मुख्यालय में गुहार लगाई थी.

जयपुर: अलवर के चर्चित पहलू खान की मॉब लिंचिंग के दौरान दर्ज हुए गौतस्करी के मामले में राजस्थान में कांग्रेस सरकार आते ही दुबारा से जांच शुरू हो गई है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की पुलिस के द्वारा बहरोड़ के एसीजेएम कोर्ट में चार्जशीट को रीओपन करने के लिए किये गए प्रार्थना पत्र को कोर्ट ने आज स्वीकार कर लिया है.

अलवर पुलिस की ओर से शुक्रवार को कोर्ट में पांच बिंदुओं ओर दुबारा जांच करने का प्रार्थना पत्र पेश किया था जिसको कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है. कोर्ट ने द्वारा पुलिस का प्रार्थना पत्र स्वीकार करने के बाद अब पुलिस इस मामले की दुबारा से जांच करेगी और अनुसंधान पूरा करने के बाद कोर्ट में सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल करेगी. पुलिस द्वारा पेश की गई चार्जशीट के बारे में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा था जरूरत पड़ेगी तो पुलिस दुबारा जांच करवाएगी. अब अशोक गहलोत का बयान का असर दिखाई दिया है.

गौरतलब है कि राजस्थान पुलिस ने कथित गोरक्षकों द्वारा 2017 में मारे गए पहलू खान के खिलाफ चार्जशीट दायर की है और इसमें उसपर गोतस्करी का आरोप लगाया है. पुलिस ने पहलू खान को राजस्थान बोवाइन एनिमल एक्ट 1995 की धारा 5,8 और 9 के तहत आरोपी बताया है. 

गौरतलब है कि 1 अप्रैल 2017 को बहरोड़ में तथाकथित कुछ गोरक्षकों ने गौ तस्करी के आरोप में गायों को लेकर जा रहे पहलू खां व उसके दो बेटों के साथ मारपीट की थी.  उस वक्त भारतीय जनता पार्टी प्रदेश की सत्ता पर काबिज थी. मॉब लिंचिंग की इस घटना में पहलू खान की मौत हो गयी थी. जिसमें आरोपियों के खिलाफ ट्रायल चल रहा है. हालांकि कुछ आरोपियो को सीआईडी सीबी जांच में बरी कर दिया था.

वहीं पहलू खान की हत्या के मामले में पुलिस ने नए सिरे से जांच की अर्जी शनिवार को लगाई थी. इस अर्जी में कुछ बिंदुओं पर जांच की अनुमति मांगी गई थी. बता दें, मामले की जांच के संबंध में पहलू खान के बेटे ने पुलिस मुख्यालय में गुहार लगाई थी. जिसके बाद सीएम अशोक गहलोत के दिए एक बयान से इस तरह के संकेत मिल रहे थे. इस मामले में अब कोर्ट ने यह तय कर दिया है कि दोबारा जांच होगी .