close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: आरसीए पर लगा ग्रहण होगा खत्म, बीसीसीआई से मिलेगी मान्यता!

आरसीए ने नागौर, श्रीगंगानगर, अलवर क्रिकेट एसोसिएशन की सदस्यता समाप्त कर इसकी शुरूआत कर दी है

राजस्थान: आरसीए पर लगा ग्रहण होगा खत्म, बीसीसीआई से मिलेगी मान्यता!
डेढ़ साल पहले सीपी जोशी बने थे आरसीए के नये अध्यक्ष

ललित कुमार/जयपुर: करीब 4 साल पहले ललित मोदी के आरसीए अध्यक्ष बनने के साथ ही राजस्थान क्रिकेट के बुरे दिन शुरू हो गए थे जो आज भी चल रहे हैं. ललित मोदी के आरसीए अध्यक्ष बनने के साथ बीसीसीआई ने राजस्थान क्रिकेट की सदस्यता समाप्त कर दी थी. लेकिन अब लगता है की राजस्थान क्रिकेट पर लगा ये ग्रहण जल्द ही हट जाएगा. 

खबर के मुताबिक अब राजस्थान क्रिकेट अध्यक्ष सीपी जोशी कांग्रेस सरकार आते ही एक्शन मोड़ में नजर आने लगे हैं. यहां तक कि सीपी जोशी ने बीसीसीआई द्वारा रखी गई तमाम शर्तों की पालना में बड़े कदम उठाना शुरू कर दिया है. इसी कड़ी में आरसीए ने नागौर, श्रीगंगानगर, अलवर क्रिकेट एसोसिएशन की सदस्यता समाप्त कर इसकी शुरूआत कर दी है.

राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के निलंबन को समाप्त करने के लिए बीसीसीआई की ओर से सबसे बड़ी शर्त रखी गई थी की ललित मोदी या उनसे संबंधित कोई भी व्यक्ति राजस्थान की क्रिकेट से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से कोई संबंध नहीं होना चाहिए. लेकिन इसके बाद भी ललित मोदी बीते 4 सालों से नागौर जिला क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष पद पर काबिज थे. हालांकि ललित मोदी गुट के समर्थक और आरसीए सचिव आरएस नांदू का कहना था की उन्होंने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था लेकिन इसका वो कोई दस्तावेज पेश नहीं कर सके.

आपसी विवाद के चलते करीब 3 महीने पहले आरसीए की कार्यकारिणी को भंग कर दिया गया था. लेकिन 4 जनवरी को एक बार फिर से आरसीए कार्यकारिणी को बहाल किया और बहाली के बाद पहली मीटिंग 7 जनवरी को आयोजित की गई. उसमें आरसीए अध्यक्ष सीपी जोशी ने साफ संकेत दे दिए थे की राजस्थान क्रिकेट के हित में बीसीसीआई ने जो भी शर्ते रखी हैं उनको जल्द पूरा कर आरसीए के निलंबन को समाप्त करवाया जाएगा.

आरसीए की ओर से नागौर, अलवर और श्रीगंगानगर जिला क्रिकेट एसोसिएशन को पत्र लिखकर जानकारी मांगी गई थी लेकिन उनकी ओर से जानकारी नहीं मिलने के चलते आरसीए ने मंगलवार को बड़ा फैसला लेते हुए इन तीनों ही जिला क्रिकेट एसोसिएशन की सदस्य समाप्त कर दी. नागौर जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष जहां ललित मोदी हैं तो वहीं अलवर जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष रुचिर मोदी जो ललित मोदी के बेटे और श्रीगंगानगर जिला क्रिकेट एसोसिएशन जहां ललित मोदी के खास महमूद आब्दी अध्यक्ष हैं. इन तीनों जिला क्रिकेट संघों की सदस्यता समाप्त की गई है.

बहरहाल, राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन ने नागौर, अलवर, श्रीगंगानगर जिला क्रिकेट संघों की सदस्यता समाप्त कर बीसीसीआई को खुश करने की पहल शुरू कर दी है. ऐसे में आरसीए पर छाए  हुए संकट के बादल भी छटने की संभावना है. तो वहीं दूसरी ओर ललित मोदी गुट के समर्थक इस कार्रवाई को गैर-कानूनी करार दे रहे हैं. ऐसे में लेकिन राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के निलंबन करवाने के लिए आरसीए अध्यक्ष सीपी जोशी की राह कितनी आसान होगी ये देखने वाली बात रहेगी.