close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: बीजेपी को बड़ा झटका पूर्व विधायक सहित 4 नेताओं ने थामा कांग्रेस का हाथ

जयपुर जिला प्रमुख मूलचंद मीणा और नागौर की पूर्व जिला प्रमुख बिन्दु चौधरी ने गुरुवार को सीकर में कांग्रेस की सदस्यता को ग्रहण कर लिया.

राजस्थान: बीजेपी को बड़ा झटका पूर्व विधायक सहित 4 नेताओं ने थामा कांग्रेस का हाथ

जयपुर: राजस्थान के सीकर में गुरुवार को कांग्रेस की संकल्प महा रैली में बीजेपी के कई बड़े नेता भी नजर आए और यहीं उन्होंने बीजेपी को छोड़ कांग्रेस का दामन भी थाम लिया. इनमें पूर्व विधायक, पूर्व मंत्री, जिला प्रमुख शामिल हैं. इस कारण बीजेपी को भी एक बड़ा झटका लगा है. सबसे पहले मानवेंद्र सिंह के कांग्रेस में शामिल होने के बाद इससे बीजेपी को एक ओर झटका लगा है. 

गौरतलब है कि कुछ वक्त पहले ही बीजेपी की मंत्री रही ऊषा पूनिया ने भी बीजेपी छोड़ने का ऐलान किया था. जिसके बाद उनके पति विजय पूनिया ने कांग्रेस की सदस्यता ले ली थी. जिसके बाद अब पूर्व विधायक नारायण राम बेड़ा, जयपुर जिला प्रमुख मूलचंद मीणा और नागौर की पूर्व जिला प्रमुख बिन्दु चौधरी ने गुरुवार को सीकर में कांग्रेस की सदस्यता को ग्रहण कर लिया. इन नेताओं में बीजेपी को सबसे बड़ा झटका जयपुर जिला प्रमुख मूलचंद मीणा के कांग्रेस में शामिल होने से लगा है. 

दरअसल, मूलचंद मीणा को जयपुर का जिला प्रमुख एक बड़े नेता के कहने पर बनाया गया था. 

कांग्रेस के धोलपुर जिलाध्यक्ष हुए बीजेपी में शामिल
वहीं कांग्रेस के धोलपुर के जिलाध्यक्ष अशोक शर्मा ने भी दल बदलते हुए बीजेपी का दामन थाम लिया है. खुद सीएम वसुंधरा राजे ने अपने ट्विटर पर उनके साथ एक तस्वीर साझा करते हुए इसकी जानकारी दी और उनका बीजेपी में स्वागत किया. जिसके बाद एक ओर ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा, अशोक शर्मा जी ने खुद माना कि कांग्रेस की कथनी एवं करनी में अंतर है तथा धौलपुर सहित सम्पूर्ण राजस्थान का विकास बीजेपी के नेतृत्व में ही हुआ है. यह कांग्रेस की विकास विरोधी नीतियों का ही परिणाम है कि जनता के साथ-साथ उनके नेताओं का भी कांग्रेस से मोहभंग हो रहा है.

गौरतलब है कि अशो शर्मा राजस्थान के पूर्व मंत्री और कांग्रेसी नेता बनवारी लाल शर्मा के बेटे हैं और उनके अचानक बीजेपी से जुड़ जाने के कारण धौलपुर की राजनीति में उथल पुथल मच गई है. ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि अशोक शर्मा के बीजेपी से जुड़ने से कांग्रेस को भी बड़ा झटका लगता है.