SMS हॉस्पिटल में 2 साल में पूरा होगा सुविधाओं का विस्तार, जून में CM करेंगे शिलान्यास

Rajasthan Samachar: मंत्री धारीवाल ने सवाई मानसिंह चिकित्सालय में चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार परियोजना को अगले दो वर्ष में पूरा करने के निर्देश दिए. परियोजना की क्रियान्विती के लिए  DPR तैयार कर मई में निविदा आमंत्रित कर कार्यादेश जारी करेगा.

SMS हॉस्पिटल में 2 साल में पूरा होगा सुविधाओं का विस्तार, जून में CM करेंगे शिलान्यास
राजस्थान सरकार में मंत्री हैं शांति धारीवाल. (फाइल फोटो)

Jaipur: नई दिल्ली के एम्स की तर्ज पर सवाई मानसिंह अस्पताल (SMS Hospital) में सुविधाओं का विस्तार अगले दो साल में पूरा होगा. इससे पहले मई के अंतिम सप्ताह में कार्यादेश जारी होंगे और जून के प्रथम सप्ताह में मुख्यमंत्री कार्य का शिलान्यास करेंगे. सवाई मानसिंह चिकित्सालय में कॉटेज वार्ड की जगह बहुमंजिला आई.पी.डी. टावर एवं गर्ल्स हॉस्टल के पास इंस्टिट्यूट ऑफ कार्डियोलॉजी सेन्टर का निर्माण किया जाएगा.

दरअसल, नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल और स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने  14 सितम्बर 2020 को सवाई मानसिंह चिकित्सालय में चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार एवं आधुनिकीकरण के लिए दौरा किया था. इसी मामले में नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल की अध्यक्षता में बुधवार को दोपहर 1 बजे उनके सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक आयोजित की गई. बैठक में अब तक की प्रगति एवं आगामी कार्यो के निर्धारण पर विचार-विमर्श किया गया.
 
मंत्री ने दिए निर्देश
बैठक में मंत्री धारीवाल ने सवाई मानसिंह चिकित्सालय में चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार परियोजना को अगले दो वर्ष में पूरा करने के निर्देश दिए. परियोजना की क्रियान्विती के लिए  DPR तैयार कर मई में निविदा आमंत्रित कर कार्यादेश जारी करेगा.

इन सुविधाओं का होगा विस्तार
सवाई मानसिंह चिकित्सालय में कॉटेज वार्ड की जगह बहुमंजिला आई.पी.डी. टावर एवं गर्ल्स हॉस्टल के पास इंस्टिट्यूट ऑफ कार्डियोलॉजी सेन्टर का निर्माण किया जाएगा. अल्ट्रा मॉडर्न आई.पी.डी. ब्लॉक की ऊँचाई 100 मीटर होगी जिसमें समस्त अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधाओं के साथ छत पर एयर एम्बुलेंस की सुविधा भी उपलब्ध रहेगी. इसके अलावा उक्त आई.पी.डी. ब्लॉक में 1000 मरीज भर्ती क्षमता के (सामान्य वार्ड), 150 मरीज भर्ती क्षमता (गंभीर व अतिगंभीर यूनिट), ऑपरेशन थियेटर, पोस्ट ऑपरेशन थियेटर, ICU डाइग्नोस्टिक लैब आदि की सुविधाएं उपलब्ध रहेगी. इसके अलावा नई मोचर्री बनाई जाएगी. इस परियोजना पर लगभग 350 करोड़  रूपए की लागत आने का अनुमान है.

यहां से आएगा पैसा
सुविधाओं के विस्तार के लिए  जयपुर स्मार्ट सिटी द्वारा 125 करोड, सवाई मानसिंह चिकित्सालय द्वारा  96 करोड, जयपुर विकास प्राधिकरण, जयपुर द्वारा  50 करोड, राजस्थान आवासन मण्डल द्वारा 50 करोड तथा 29 करोड डी.एम.एफ.टी. व अन्य स्त्रोतों से उपलब्ध करवाई जाएगी.