close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: दो लग्जरी कार खरीदने को लेकर सवालों के घेरे में पूर्व मेयर अशोक लाहोटी

महापौर विष्णु लाटा ने अब राज्य सरकार को पत्र भेज कर अशोक लाहोटी पर अनावश्यक रूप से निगम के राजस्व को नुकसान पहुंचाने की शिकायत की है. 

राजस्थान: दो लग्जरी कार खरीदने को लेकर सवालों के घेरे में पूर्व मेयर अशोक लाहोटी
अशोक लाहोटी अपने समय में दो लग्जरी कार खरीदने के प्रकरण में मेयर के निशाने पर है.

रोशन शर्मा/जयपुर: मेयर विष्णु लाटा और पूर्व मेयर अशोक लाहोटी के बीच तकरार थमने का नाम नहीं ले रही. फर्जी पट्टा प्रकरण के बाद पूर्व मेयर अशोक लाहोटी के समय खरीदी गई दो गाड़ियों का मामला फिर सुर्खियों में है. महापौर विष्णु लाटा ने अब राज्य सरकार को पत्र भेज कर अशोक लाहोटी पर अनावश्यक रूप से निगम के राजस्व को नुकसान पहुंचाने की शिकायत की है. हालांकी इससे पहले मेयर विष्णु लाटा फर्जी पट्टा प्रकरण में भी लाहोटी के खिलाफ एसीबी में शिकायत देने की बात कह चुके है, लेकिन मामला लाहोटी के बयान के बाद ये मामला ठंडा पड गया.

भाजपा से बागी होकर मेयर बने विष्णु लाटा व पूर्व मेयर और सांगानेर विधायक अशोक लाहोटी के बीच सियाशी तनाव बढ़ता जा रहा है. अशोक लाहोटी और मेयर विष्णु लाटा के बीच विवाद पूर्व मेयर निर्मल नाहटा के इस्तीफे के बाद ही शुरू हो गया था, लेकिन नाहटा के बाद अशोक लाहोटी पार्षद से मेयर बनने में सफल हो गए. इस दौरान विष्णु लाटा अंदरूनी तौर पर अशोक लाहोटी की खिलाफत शुरू कर दी. इसके बाद लाहोटी सांगानेर से विधायक बन गए ओर उन्हे मेयर पद छोडना पड़ा. लाहोटी के बाद विष्णु लाटा भाजपा से बागी होकर जयपुर के मेयर बन गए.

मेयर बनने के साथ ही विष्णु लाटा ने अशोक लाहोटी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. सबसे पहले विष्णु लाटा ने फर्जी पट्टा प्रकरण में अशोक लाहोटी पर आरोप लगाने के साथ ही एसीबी में उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का मौखिक कागजी कार्ड खेला. इसके बाद एकाजल एमओयू को लेकर अशोक लाहोटी पर सवाल खड़े कर दिये. हालांकी कुछ समय बाद ये दोनों मामले शांत हो गए.

उधर मेयर विष्णु लाटा के इन आरोपों पर विधायक अशोक लाहोटी ने भी खुल कर अपनी प्रतिक्रिया दी है. लाहोटी ने कहा की निगम मुख्यालय दलालों का अड्डा बना हुआ है, यहां आम आदमी की सुनवाई नहीं होती.

अब अशोक लाहोटी अपने समय में दो लग्जरी कार खरीदने के प्रकरण में मेयर के निशाने पर है. मेयर विष्णु लाटा ने डीएलबी निदेशक के माध्यम से ये शिकायती पत्र राज्य सरकार को भेज दिया. इस पत्र में साफ लिखा है कि पूर्व मेयर अशोक लाहोटी ने अनावश्वक रूप से 46 लाख 24 हजार 736 रूपए की कीमत से दो लग्जरी गाडियां खरीदी. इतना ही नहीं इन गाडियों के वीआईपी नंबर लेने के लिए भी अलग से पैसा खर्च किया गया.