close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: 4-5 सालों से बढ़ा गणेश चतुर्थी का क्रेज, धूम धाम से लोग करते हैं बप्पा का स्वागत

मूर्ति बनाने वालों का कहना है कि यह कला उनके पूर्वजो ने उनको सिखाई है. पहले के जमाने में पत्थर की मूर्ति बना करती थी लेकिन अब पत्थर की मूर्ति लेने वाला कोई नहीं है.

राजस्थान: 4-5 सालों से बढ़ा गणेश चतुर्थी का क्रेज, धूम धाम से लोग करते हैं बप्पा का स्वागत
फाइल फोटो

बाड़मेर: पिछले कुछ सालों में बॉलीवुड में जिस तरीके से बप्पा का क्रेज बढ़ा है उसके बाद राजस्थान में गणपति बप्पा की धूम जबरदस्त तरीके से देखने को मिल रही है. पिछले तीन-चार सालों में लगातार राजस्थान के बाड़मेर जिले में गणपति बप्पा की धूम इस कदर लोगों पर सवार है कि हर कोई गणपति बप्पा को लेकर इंतजार करता रहता है कि कब गणपति बप्पा का त्योहार आएगा. 

50 साल से लगातार गणपति बप्पा की मूर्ति बनाने वाले परिवार का कहना है कि जिस तरीके से पिछले तीन-चार सालों में बाड़मेर जिले में गणपति बप्पा का क्रेज बढ़ा है. वह अपने आप में हमारी समस्या का समाधान है. जहां आमतौर पर बाड़मेर जिले में 100 से 150 मूर्तियां गणपति बप्पा के त्योहार पर बिकती थीं वो अब 700 के आसपास हो गई हैं. 

मूर्ति बनाने वालों का कहना है कि यह कला उनके पूर्वजो ने उनको सिखाई है. पहले के जमाने में पत्थर की मूर्ति बना करती थी लेकिन अब पत्थर की मूर्ति लेने वाला कोई नहीं है. लिहाजा हम लोग मिट्टी की मूर्ति बनाने हैं. यह मिट्टी की मूर्ति बनाने के लिए हम पिछले 5 महीने से लगातार लगे हैं. हमने करीब 700 मूर्तियां तैयार की हैं जो कि 1 या 2 तारीख को एक ही दिन में बिक जाएंगी.

बात अगर तीन-चार साल पहले की की जाए तो पहले युवा लोग ही गणपति बप्पा को विराजमान करते थे लेकिन अब समय बदल चुका है. मूर्ति बनाने वाले कहते हैं कि हर उम्र के लोग गणपति बप्पा की मूर्ति ले जाकर विराजमान करते हैं. यहां के लोगों में गणपति बप्पा को लेकर जबरदस्त क्रेज देखने को मिलता है.