close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: सरकारी कॉलेजों में अब हर महीने होगी परीक्षा, जानें क्या होंगे नियम

इस टेस्ट की प्रमुख वजह है प्रदेश के सरकारी कॉलेजों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधार और परिणामों की बेहतरी हो रही है. 

राजस्थान: सरकारी कॉलेजों में अब हर महीने होगी परीक्षा, जानें क्या होंगे नियम
टेस्ट के नम्बर छात्रों की मुख्य परीक्षा में नहीं जोड़े जाएंगे.

जयपुर: उच्च शिक्षा विभाग की ओर से इस साल से प्रदेशभर के सरकारी कॉलेजों में एक नवाचार शुरू किया गया है. जिसके तहत अब हर महीने सभी सरकारी कॉलेजों में विद्यार्थियों का मासिक टेस्ट लिया जाएगा. इस टेस्ट की प्रमुख वजह है प्रदेश के सरकारी कॉलेजों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधार और परिणामों की बेहतरी हो रही है. शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित पहले ही मासिक टेस्ट में सफलता शिक्षा विभाग को राहत देने वाली साबित हुई.

गौरतलब है कि इस साल 1 जुलाई को प्रदेशभर के सरकारी कॉलेजों में शैक्षणिक सत्र की शुरूआत हुई. वहीं सोमवार को इन कॉलेजों में पहले मासिक टेस्ट का आयोजन किया गया. 20 सवालों के इस टेस्ट में 5 सवाल 5 नम्बर के वस्तुनिष्ठ प्रश्न, 5 सवाल 2-2 नम्बर शोर्ट और एक 5 नम्बर का 300 शब्दों का सवाल किया गया. मासिक टेस्ट को लेकर कॉलेजों की ओर से विशेष बंदोबस्त किए गए और इस टेस्ट के लिए विद्यार्थियों को एक घंटे का समय दिया गया. गांधी नगर स्थित राजकीय कॉलेज की प्रिंसिपल कीर्ति शेखावत ने बताया की टेस्ट को लेकर बच्चों में खासा उत्साह देखने को मिला.

इसके साथ ही टेस्ट को लेकर पहले ही सभी विद्यार्थियों को सूचित कर दिया गया था. कीर्ति शेखावत ने बताया कि इस टेस्ट से मुख्य परीक्षा की तैयारियों को लेकर विद्यार्थियों को काफी मदद मिलेगी. साथ ही टेस्ट देने के बाद बच्चों ने बताया कि हर महीने होने वाले टेस्ट पढ़ाई में काफी फायदेमंद साबित होंगे.

कॉलेज आयुक्त प्रदीप कुमार बोरड़ ने पहले ही मासिक टेस्ट के सफल आयोजन पर खुशी जताते हुए कहा कि सरकारी कॉलेजो में शुरू किए गए इस नवाचार के पहले ही टेस्ट को काफी अच्छा रेस्पोंस मिला है. हालांकि प्रदीप कुमार बोरड़ ने बताया कि टेस्ट के नम्बर उनकी मुख्य परीक्षा में नहीं जोड़े जाएंगे, लेकिन ये टेस्ट उनकी मुख्य परीक्षा की तैयारियों के काफी कारगर साबित होंगे.