राजस्थान: गहलोत सरकार का किसानों के लिए निर्देश, फसल की कटाई में इन नियमों को मानें

डीएम ने जिले में सभी चैकपोस्टों पर फसल कटाई के काम आने वाले उपकरणों और फसलों को ढोने वाले वाहनों को लॉकडाउन से मुक्त रखने के निर्देश दिए हैं.

राजस्थान: गहलोत सरकार का किसानों के लिए निर्देश, फसल की कटाई में इन नियमों को मानें
राज्य सरकार ने किसानों के बचाव के लिए नियमों का जारी किया है.

कोटा: राजस्थान के कोटा में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को रोकने को फैलने से रोकने के लिए अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) सरकार द्वारा किसानों को सुरक्षात्मक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. इसको लेकर जिलाधिकारी ने कहा कि वर्तमान में विभिन्न फसलों की कटाई को ध्यान में रखते हुए फसल कटाई कार्य में कोविंद-19 (COVID-19) कोरोना के खतरे को दूर करने के लिए कृषि आयुक्तालय द्वारा दिशा-निर्देश जारी किए जाते हैं. जिसका पालना करने से किसानों तक कोरोना वायरस संक्रमंण को फैलने से रोका जा सकेगा.

कृषि उपकरणों के आवागमन पर रोक नहीं
डीएम ने जिले में सभी चैकपोस्टों पर फसल कटाई के काम आने वाले उपकरणों और फसलों को ढोने वाले वाहनों को लॉकडाउन (Lockdown) से मुक्त रखने के निर्देश दिए हैं. जिससे किसानों को फसल कटाई में परेशानी का सामना नहीं करना पड़े.

इसका करना होगा पालन-
1. फसल कटाई यथासंभव मशीन चलित उपकरणों से की जाए. हस्तचलित कटाई उपकरण काम में लेने पर उपकरणों को दिन में कम से कम 3 बार साबुन के पानी से कीटाणु रहित करें.
2. फसल कटाई के समय निर्धारित दूरी की सख्ती से पालना करें. खेत में फसल काटते, खाना खाते समय एक व्यक्ति से दूसरे के बीच कम से कम 5 मीटर की दूरी रखी जाए. खाने के बर्तन अलग-अलग रखें तथा प्रयोग के पश्चात साबुन के पानी से अच्छी तरह साफ करें.
3. एक व्यक्ति द्वारा काम में लिए जाने वाले उपकरण को दूसरा व्यक्ति कदापि काम में नहीं ले. कटाई करने वाले व्यक्ति अपने-अपने उपकरण ही काम में ले.
4. कटाई के दौरान बीच-बीच में अपने हाथों को साबुन के पानी से अच्छी तरह साफ करते रहें.
5. कटाई कार्य अवधि में पहले दिन पहने कपड़े दूसरे दिन काम में न ले. काम में लिए कपड़ों की अच्छी तरह धोकर धूप में सुखाने के पश्चात ही पुनः काम में प्रयोग करें.
6. कटाई के दौरान सभी व्यक्ति अपनी अलग-अलग पानी की बोतल रखें.
7. कटाई करने वाले सभी व्यक्ति मास्क का प्रयोग करें.
8. अगक किसी व्यक्ति को खांसी, जुखाम, बुखार, सिरदर्द, बदनदर्द आदि के लक्षण हैं तो उसे फसल कटाई कार्य से अलग रखे तथा तत्काल अपने निकटतम स्वास्थ्यकर्मी को सूचित करें.
9. खेत में पर्याप्त मात्रा में पानी व साबुन की उपलब्धता रखें.
10. थ्रेसिंग/थ्रेडिंग कार्य के दौरान भी उपरोक्त अनुसार निर्धारित दूरी व मास्क का प्रयोग, खाने व पानी के बर्तनों का प्रयोग आदि सभी आवधानियों का पूर्ण गंभीरता से पालन करें.

बता दें कि, देश में फैलते कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सरकार लगातार एहतियातन कदम उठा रही है. इसी के तहत राज्य सरकार ने किसानों के बचाव के लिए नियमों का जारी किया है. गौरतलब है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से भारत में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 600 से अधिक लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं.