राजस्थान: गोतस्करी पर ज्ञानदेव आहूजा का बयान, कहा- यह आतंकवाद है

आहूजा ने कहा कि मोब लिंचिंग कोई इरादतन नहीं करता है, बल्कि किसी की हत्या इरादे से की जाती है.

राजस्थान: गोतस्करी पर ज्ञानदेव आहूजा का बयान, कहा- यह आतंकवाद है
ज्ञानदेव आहूजा ने कहा कि मोब लिंचिंग कोई इरादे से नहीं करता. (फाइल फोटो)

जयपुर: राजस्थान में बीजेपी के उप प्रदेशाध्यक्ष ज्ञानदेव आहूजा एक बार फिर अपने बयान को लेकर सुर्खियों का हिस्सा बने हुए हैं. दरअसल, ज्ञानदेव आहूजा ने मोब लिंचिंग के बारे में बात करते हुए कहा कि उनकी नजर में ये गोतस्कर आतंकवाद है. इसके साथ ही आहूजा ने कहा कि मोब लिंचिंग कोई इरादतन नहीं करता है, बल्कि किसी की हत्या इरादे से की जाती है.

आपको बता दें, अलवर जिले की सीमा मेवात से लगती है. अलवर के क्षेत्र में आने वाले रामगढ़, किशनगढ़बास, तिजारा ओर आस पास के इलाके हरियाणा की सीमा से लगते हैं और अक्सर इसी रास्ते से गोतस्करी और गोकशी से जुड़े मामले सामने आते हैं. 

बीजेपी नेता अपनी टिप्पणियों की वजह पहले भी विवादों में रह चुके हैं. जुलाई 2018 में, आहूजा ने कहा था कि गोहत्या आतंकवाद से भी "बड़ा अपराध" है. उन्होंने गायों की तस्करी के संदेह में 28 वर्षीय रकार खान को कथित रूप से लिंचिंग का आरोपी मानते हुए तीन व्यक्तियों की रिहाई की भी मांग की थी. 

गौरतलब है कि राजस्थान में हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों के वक्त ज्ञानदेव आहूजा को किसी भी क्षेत्र में चुनाव लड़ने के लिए सीट नहीं दी गई थी. जिसके बाद उन्हें राजस्थान बीजेपी द्वारा उप प्रदेशाअध्यक्ष का जिम्मा सौंपा गया था.